स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

क्यों पूर्व अमरीकी राष्ट्रपतियों की मूर्तियां पार्क से हटाई गईं

Pushpesh Sharma

Publish: Feb 11, 2020 16:01 PM | Updated: Feb 11, 2020 16:03 PM

Weird

-वर्जीनिया के प्रेसीडेंट्स पार्क (president bust park in virginia) में बने विशाल स्कल्प्चर (sculpture) की चौंका देने वाली दास्तां
-पार्क घाटे में गया तो नए मालिक ने मूर्तियों को नष्ट करने के लिए कहा था

-यहां जॉर्ज वाशिंगटन से लेकर जॉर्ज डब्लू बुश तक (george washington to george w. bush) 43 अमरीकी राष्ट्रपतियों की कंक्रीट से बनी प्रतिमाएं मौजूद हैं

जयपुर.

अमरीका के वर्जीनिया प्रांत के ईस्टर द्वीप पर पूरा व्हाइट हाउस नजर आता है। यहां जॉर्ज वाशिंगटन से लेकर जॉर्ज डब्लू बुश तक 43 अमरीकी राष्ट्रपतियों की कंक्रीट से बनी अद्र्धआकार प्रतिमाएं मौजूद हैं। विलियम्सबर्ग के पास यार्क काउंट के प्रेसिडेंट्स पार्क में एक बार इन्हें प्रदर्शित किया गया था। 10 एकड़ के पार्क में एक संग्रहालय और मूर्तिकला उद्यान है, जहां आगंतुक राष्ट्रपतियों की मूर्ति को देख और इनकी उपलब्धियों को पढ़ते थे। ये पार्क 2004 से 2010 तक खोला गया था। इन विशाल मूर्तियों के निर्माण को लेकर बनी डॉक्यूमेंट्री ‘आल द प्रेसीडेंट्स हेड’ के मुताबिक 2010 में जब पार्क बंद हुआ तो इन मूर्तियों को यूं ही छोड़ दिया गया, जब तक नए डवलपर्स ने पार्क को खरीदा।

[MORE_ADVERTISE1]

पार्क के नए मालिक ने स्थानीय अपशिष्ट प्रबंधन कंपनी के मालिक हावर्ड हैकिन्स को इन प्रतिमाओं को दूर ले जाकर नष्ट करने के लिए कहा। लेकिन हैकिन्स पूर्व राष्ट्रपतियों के प्रति सम्मान दिखाते हुए इन मूर्तियों को नष्ट करने की बजाय अपने खेत में ले आए। इन प्रतिमाओं को खोदने में 10 लोगों को तीन सप्ताह लगे। इस दौरान कई मूर्तियों को नुकसान भी पहुंचा। इसके बाद प्रेसीडेंट्स पार्क से दस मील की दूरी पर हैकिन्स के खतों में लाया गया। इस पूरी प्रक्रिया में 50 हजार डॉलर खर्च हुए। 2013 के बाद से ये मूर्तियां ऐसे ही रखी हैं, बस इन कद्दावर पूर्व राष्ट्रपतियों की मूर्तियों के बीच एक खामोशी पसरी हुई है। साथ है तो बस मेंढक और सांपों का, जो इनके आसपास कभी कभार दिखते हैं।

[MORE_ADVERTISE2]

ये उनके लिए मेरा सम्मान है, जिन्होंने अमरीका को मजबूत बनाया
डॉक्यूमेंट्री में जब हैकिंस से पूछा गया कि आपने इतना सब क्यों किया तो वे कहते हैं ये वही लोग हैं, जिन्होंने अमरीका को मजबूत देश बनाया। उसी देश में हम रहते हैं, ये उनके प्रति मेरा सम्मान था। ये खेत हैकिंस का है, लेकिन वे चाहते हैं कि फिर इन महान लोगों की मूर्तियों को लोग देखें। इसके लिए उन्होंने फोटोग्राफर और इतिहासकार जॉन प्लाशल से हाथ मिलाया है। हैकिन्स कहते हैं मूर्तियों के संरक्षण और इनको सही स्थान पर व्यवस्थित करने के लिए 15 लाख डॉलर (10 करोड़ 67 लाख रुपए) जुटाने होंगे। ये राशि मेरे लिए संभव नहीं, लेकिन मैं चाहता हूं कि इसके लिए कोई शैक्षिक पार्क बनाया जाए और इन महान नेताओं के बारे में बच्चों को बताया जाए। यदि ऐसा नहीं हुआ तो मुझे बड़ी निराशा होगी।

[MORE_ADVERTISE3]