स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गायों की रक्षा और गौशाला निर्माण के लिए विहिप बजरंग दल ने किया सुंदरकांड पाठ

Anil Kumar Soni

Publish: Aug 19, 2019 14:09 PM | Updated: Aug 19, 2019 14:09 PM

Vidisha

नीमताल पर भूखहड़ताल पर बैठे महंत के समर्थन में आया बजरंग दल

विदिशा। आवारा मवेशियों के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में गौशाला निर्माण कराने और उनकी रक्षा तथा चरनोई भूमि अतिक्रमण मुक्त करने सहित गायों के लिए अन्य मागों के निराकरण को लेकर नीमताल पर अनिश्चितकालीन धरना और भूख हड़ताल पर बैठे महंत कल्याणदास त्यागी महाराज के समर्थन में विहिप बजरंग दल आ गया है। रविवार को नीमताल पर कार्यकर्ताओं ने हनुमान चालीसा पाठ के साथ ही सुंदरकांड पाठ किया।

 

अकाल काल के गाल में समा जाते हैं

मालूम हो कि जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रों में तक आवारा मवेशी मुसीबत का सबब अने हुए हैं। कई बार वाहनों की टक्कर से यह घायल हो जाते हैं या अकाल काल के गाल में समा जाते हैं। महंत ने बताया कि प्रदेश सरकार ने भी अपने एजेंडे में प्रत्येक ग्राम पंचायत में गौशाला बनाने की बात कही थी। इसलिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में गौशाला निर्माण कराया जाए। महंत का कहना है कि जब तक उनकी मांगों का निराकरण नहीं होगा यह हड़ताल जारी रहेगी। रविवार को विहिप बजरंग दल जिलाध्यक्ष पे्रम सराफ, विभाग प्रमुख चंद्रभानसिंह बघेल सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

पूर्व में भी कर चुके प्रदर्शन
महंत पूर्व में भी इन मांगों के निराकरण के लिए एडीएम बंगले के पास और भैरोखेड़ी चौराहा पर धरना दे चुके हैं। उन्हें तब मांगों के निराकरण का आश्वासन तो मिल गया था, लेकिन मांगों का निराकरण अब तक नहीं होने पर उन्होंने अनिश्चितकालीन धरना और भूख हड़ताल शुरु कर दी है।

कहीं फसल चट हो रही, तो कहीं हादसे
जिलेभर में आवारा मवेशी जगह-जगह नेशनल हाईवे, स्टेट हाईवे सहित शहर और अंचल की सड़कों पर, चौक-चौराहों पर बैठे नजर आते हैं। इनके कारण वाहन चालकों का वाहन चलाना मुश्किल हो रहा है। कई बार मवेशियों की घमाचौकड़ी के कारण राहगीरों का सड़कों पर चलना मुश्किल होता है। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में यह फसलों को चट कर रहे हैं। जिससे किसानों को फसलों की रक्षा के लिए रतजगा तक करना पड़ता है। लेकिन समस्या का निराकरण अब तक नहीं हो सका है।