स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आगजनी, पथराव, चक्काजाम में भाजपा नेता पार्षद पति सहित 50 लोगों पर एफआइआर

Krishna singh

Publish: Oct 20, 2019 07:04 AM | Updated: Oct 19, 2019 23:41 PM

Vidisha

बायपास रोड पर 8 गायों को कुचलने का मामला : नौ लोगों के खिलाफ नामजद केस, एक गिरफ्तार

विदिशा. बायपास पर आशीष मंगल वाटिका के सामने शुक्रवार की रात आठ गायों को कुचलने के बाद हुए हंगामे में पुलिस ने 9 लोगों के खिलाफ नामजद और 40-50 अन्य लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। कंट्रोल रूम के मुताबिक नामजद आरोपियों में भाजपा नेता एड. सुरेन्द्र चौहान, पार्षद पति शक्तिसिंह जादौन, शैलेन्द्र परिहार, धर्मेन्द्र किरार, राजकुमार कुशवाह, आशीष मोहता, धु्रव चतुर्वेदी, जितेन्द्र गोस्वामी और चंद्रेश कुशवाह शामिल हैं।

40-50 अन्य लोगों के खिलाफ भी प्रकरण दर्ज किया गया है। इनमें से धर्मेन्द्र किरार को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी विनायक वर्मा ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तीन पुलिस पार्टियां बनाई गईं हैं। दबिश की वीडिओ रिकार्डिंग भी की जा रही है। सिविल लाइन थाने से मिली जानकारी के मुताबिक सभी आरोपियों पर भादंवि की धारा 147, 148, 323, 353, 435, 336, 186 तथा 341 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। ये धाराएं आगजनी, पथराव, शासकीय कार्य में बाधा, जबरिया रास्ता रोकने और बल्वे से संबंधित हैं। उधर घटना के बाद रात भर आशीष मंगल वाटिका के पास पुलिस तैनात रही। आगजनी में जले हुए ट्रक को भी देर रात वहां से हटवाया गया।

इधर उपद्रव मामले में आरोपी बनाए गए सुरेन्द्र सिंह चौहान ने अपना लिखित बयान जारी करते हुए कहा है कि वे मौके पर सीएसपी द्वारा बुलाए जाने पर वहां गए थे और उन्हीं के कहने पर आक्रोशित लोगों को समझाने का प्रयास कर रहे थे। इस बीच सिविल लाइन टीआई आरएन शर्मा ने मुझसे और पार्षद पति शक्तिसिंह जादौन जो भीड़ से अलग खड़े थे अभद्र व्यवहार करते हुए गाली-गलौज की। इस पर मैंने उनकी शिकायत वरिष्ठ अधिकारियों से करने की बात कही। इसी दुर्भावना से मेरे ऊपर व शक्ति सिंह जादौन, धु्रव चतुर्वेदी और आशीष मोहता पर प्रकरण दर्ज किया गया है। इस संबंध में राष्ट्रीय ब्राम्हण संघ और राजपूत करणी सेना ने एसपी के नाम ज्ञापन एडीशनल एसपी को दिया है।

...अब पकड़े जा रहे आवारा मवेशी
विदिशा. शहर में बीती रात बायपॉस पर सड़क हादसे में हुई गोवंश की मौतें और हंगामे के बाद प्रशासन हरकत में आया है। अब सड़क पर घूमने वाले मवेशियों को बाहर गोशालाओं में छोडऩे की मशक्कत शुरू हो गई है। बीती रात करीब दो बजे तक नगरपालिका का अमला यह कार्य करता रहा। अब तक 40 से अधिक मवेशियों को गोशाला में भेजा जा चुका है। नगर पालिका सीएमओ सुधीरसिंह ने बताया कि इस कार्य के लिए दो वाहन एवं 20 कर्मचारी लगाए गए हैं। दिन के अलावा रात में भी नपा का अमला मवेशियों को घेरेगा एवं वाहनों से इन्हें गोशालाओं में छोड़ा जाएगा। उन्होंने बताया कि बीती रात हादसे के बाद रात में दुर्गानगर मार्ग से 100 मवेशियों को घेरा गया था। बस स्टैंड पर इन मवेशियों में अचानक भगदड़ मच गई। दस-बारह मवेशी ही शेष रह गए। वहीं रंगई पर भी करीब 30 मवेशी मिले जिन्हें बाहर छोड़ा गया।

मेहगांव गोशाला पहुंचा रहे मवेशी
वहीं नपा में स्वच्छता अधिकारी राजेश शर्मा ने बताया कि मेहगांव गोशाला में 300 मवेशियों की गुंजाइश है। वहां इन पशुओं को भेजा जा रहा है। अब तक 40 से अधिक मवेशी भेजे जा चुके हैं। सर्व प्रथम शहर के सभी प्रमुख मार्गों से इन्हें हटाया जाएगा।