स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

shot dead : बाइक सवारों ने व्यापारी पर बरसाई गोलियां, मौत

Amit Mishra

Publish: Jul 16, 2019 11:03 AM | Updated: Jul 16, 2019 11:38 AM

Vidisha

सतपाड़ा हाट में सराफा व्यापारी की गोली मारकर खुलेआम हत्या, साथी गंभीर घायल

विदिशा. सतपाड़ा हाट के साप्ताहिक बाजार में व्यापार कर लौट रहे नटेरन के एक सराफा व्यापारी businessman की अज्ञात बदमाशों criminal shot ने गोली मारकर shot dead हत्या कर दी। मृतक के एक सहयोगी को भी गोली लगी है, जिसे भोपाल रैफर किया गया है। सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक mppolice घटना स्थल के लिए रवाना हो गए हैं।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सतपाड़ा हाट का साप्ताहिक बाजार करने नटेरन के सराफा व्यापारी 30 वर्षीय यशपाल सोनी और उनका सहयोगी रमपुरा टोकरी निवासी 24 वर्षीय सुनील विश्वकर्मा सोमवार की रात करीब 8 बजे हाट में अपना व्यापार कर लौट रहे थे। उन्होंने अपना सामान कार में रख लिया था। उसी समय एक बाइक पर सवार तीन अज्ञात लोगों ने उस पर फायर कर दिया। सीने में गोली लगते ही यशपाल वहीं गिर गए। जबकि सुनील भी घायल हो गया।


करीब 3-4 फायर होने की आशंका
यशपाल को तत्काल भोपाल रेफर किया गया, लेकिन रास्ते में उसकी मौत हो गई। जबकि सुनील को जिला अस्पताल से भोपाल रैफर किया गया है। एसपी विनायक वर्मा ने बताया कि संभवत: 12 बोर के छर्रे लगे हैं और करीब 3-4 फायर होने की आशंका है। एसपी का कहना है कि घटना का कारण फिलहाल स्पष्ट नहीं है। या तो आपसी दुश्मनी होगी या फिर लूट का प्रयास असफल होना। घटना स्थल पर ही जेवरात और पैसों की पेटी पड़ी थी।

पहले पेंटर था व्यापारी
गौरतलब है कि मृतक व्यापारी सोना चांदी की दुकान करने से पहले पेंटर का काम करता था। सात साल पहले उसने हाट-बाजार में सोना चांदी की दुकान शुरू की थी। व्यापारी की घर पर भी एक छोटी सी दुकान है, जिस पर उसकी पत्नी बैठती है। परिवार में आय का एकमात्र साधन यही रोजगार था।

 

यशपाल की नहीं थी किसी से रंजिश
घटना के बाद जिला अस्पताल में पहुंचे परिजनों का कहना है कि परिवार का किसी से झगड़ा नहीं था और किसी से कोई रंजिश नहीं थी। आरोपी जेवरात की पेटी और पैसे भी नहीं ले गए। इससे समझ मे नहीं आ रहा है कि हत्या क्यों कि गई। वहीं मृतक के भाई का कहना है कि आरोपी अभी भी आसपास ही हैं, पुलिस सर्च करे तो पकड़े जा सकते हैं।

मृतक के भाई का आरोप है कि मौके पर कई कारतूसों की खोल पड़े हैं। आरोपियों ने खूब गोलियां चलाईं। यशपाल की कार में भी गोलियों के निशान हैं। सतपाड़ा चौकी को खबर देने के बावजूद वहां से सब इंस्पेक्टर 3 किमी दूर भी 1 घण्टे बाद आ पाए। बता दें कि यशपाल की पत्नी व तीन बच्चे हैं।