स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चल समारोह में राधाकृष्ण का नृत्य रहा आकर्षण का केंद्र

Anil Kumar Soni

Publish: Aug 14, 2019 16:01 PM | Updated: Aug 14, 2019 16:01 PM

Vidisha

दुर्गादास राठौर जयंती पर दिनभर हुए आयोजन

विदिशा। राठौर समाज द्वारा मंगलवार को दुर्गादास राठौर जयंती हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। शहर के मुख्य मार्गों से चल समारोह निकाला गया। इस दौरान इंदौर से आए कलाकार एक रथ पर राधा-कृष्ण सहित अन्य भगवान का रूप रखकर नृत्य करते हुए चल रहे थे, जो आकर्षण का केंद्र रहा। वहीं विनयक बैंक्यूट हॉल में आयोजित कार्यक्रम में विधायक ने समाज की प्रतिभाओं को सम्मानित किया।

 

अपने-अपने मोबाइल में कैद करते देखे गए

बजरिया स्थित समाज के रामजानकी मंदिर से सुबह आठ बजे चल समारो शुरु होना था, लेकिन सुबह से शहर में हो रही झमाझम बारिश के कारण दोपहर 12 बजे के बाद चल समारोह शुरु हुआ। मंदिर को भी इस दौरान सजाया गया था। बारिश के बीच शुरु हुए चल समारोह में इंदौर से आए कलाकारों द्वारा भगवान के स्वरूप रखकर जब नृत्य किए जा रहे थे, तो जगह-जगह नागरिक यह पल अपने-अपने मोबाइल में कैद करते देखे गए।

राम दरबार का स्वरूप विराजित था

इस दौरान एक रथ पर दुर्गादास राठौर के स्वरुप विराजित थे, तो एक रथ पर राम दरबार का स्वरूप विराजित था। जगह-जगह विभिन्न संगठनों ने स्वगत किया। चल समारोह बजरिया, लोहाबाजार, बड़ाबाजार, तिलकचौक, निकासा, माधवगंज, अस्पताल मार्ग होते हुए विनायक बैंक्युट हॉल पहुंचा।

mp

धर्मशाला के लिए जगह कराएंगे उपलब्ध
विनायक बैंक्यूट हॉल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान विधायक शशांक भार्गव से समाजजनों ने समाज की धर्मशाला के लिए जगह की मांग की। जिस पर विधायक ने धर्मशाला के लिए जगह उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया। वहीं भाजपा के दीपक तिवारी ने भी धर्मशाला के लिए हर संभव मदद किए जाने का आश्वासन दिया। इस दौरान कक्षा 10 और 12 में 85 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले प्रतिभावान विद्यार्थियों तथा समाज की प्रतिभाओं का सम्मान अतिथियों ने किया।

 

वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान समाज के बच्चों और युवक-युवतियों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां दीं। इस दौरान समाज के जिलाध्यक्ष मुकेश राठौर, चल समारोह समिति अध्यक्ष गौरव राठौर, जितेंद्र राठौर, अनिल राठौर, डालचंद्र, खुमानसिंह, मनोज राठौर, महाराजसिंह, घनश्याम, मुरलीधर, नन्नूलाल, गोविंद सिंह, एडवोकेट श्यामबाबू, गोपालसिंह, सुनील और शुभम राठौर आदि मौजूद रहे।