स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इन बातों का ध्यान में रखकर करें तनाव दूर, जाने टिप्स

Bhupendra Malviya

Publish: Sep 12, 2019 14:38 PM | Updated: Sep 12, 2019 14:38 PM

Vidisha

विश्व आत्महत्या निषेध दिवस सप्ताह का शुभारंभ

विदिशा। जिले में आत्महत्या suicides की प्रवत्ति trend रोकने के लिए उत्कृष्ट विद्यालय में आत्महत्या निषेध दिवस सप्ताह Week का शुभारंभ हुआ। इस दौरान विद्यार्थियों students को तनाव दूर करने के तरीके बताए एवं अपनी परेशानी को परिजनों family members के साथ साझा करने की बात पर जोर दिया गया। यह आयोजन मप्र आध्यात्म विभाग एवं राज्य आनंद संस्थान की ओर से किया जा रहा है इसके तहत एक सप्ताह तक विभिन्न गतिविधियां संचालित की जाएंगी।


जिला आनंद सहयोगी विजय श्रीवास्तव ने बताया कि कार्यक्रम में राज्य आनंद संस्थान की टीओटी अंजना श्रीवास्तव, राज्य आनंद संस्थान के जिला मास्टर्स टे्रनर्स संजय श्रीवास्तव, आनंदक राजीव भार्गव एवं हेमंत विश्वास एवं प्राचार्य चारू सक्सेना प्रमुख रूप से मौजूद रहीं।

नुक्कड़ नाटक आदि कार्यक्रम निरंतर किए जाएंगे
इस दौरान विद्यार्थियों से उनकी चिंताओं, समस्याओं की जानकारी ली गई और इनके समाधान के तरीके भी बताए गए। विद्यार्थियों को बताया गया कि किसी भी बात का तनाव हो पढ़ाई का, पारिवारिक या अन्य कोई समस्या इसे अपने परिजनों से, अच्छे मित्रों या शिक्षकों के साथ जरूर साझा करें इससे समस्या का हल निकलेगा। श्रीवास्तव ने बताया कि इस सप्ताह के तहत जागरुकता रैली, संगोष्ठियां, विषय पर आधारित नुक्कड़ नाटक आदि कार्यक्रम निरंतर किए जाएंगे।

विद्यार्थियों को बताए तनाव दूर करने के तरीके

तनाव में रहने के लक्षण

वैसे तो तनाव के कई सारे लक्षण होते है लेकिन यहाँ हम आपको कुछ प्रमुख लक्षण बता रहे है जो किसी व्यक्ति के तनाव में होने की स्थिति को दर्शाता है.

नींद का गायब रहना
पाचन क्रिया का धीमा हो जाना
रक्त संचार का ठीक न होना
वजन घट जाना
दिल का तेजी से धड़कते रहना
अचानक ब्लड प्रेशर बढ़ जाना
थकान महसूस करना
मन का उदास रहना
सांसे अचानक तेज होना

तनाव के प्रमुख कारण कौन से है :

तनाव होने के कई कारण होते है और कई व्यक्ति तो छोटी – छोटी बातो से ही टेंशन में आने लगते है. तनाव के कुछ कारण प्रमुख है।

प्रेमपूर्ण रिश्तो में खटास हो जाना
वैवाहिक जीवन में परेशानी होना
किसी काम को पूरा करने के लिए समय का अभाव होना
किसी गंभीर बीमारी का होना
आर्थिक समस्याएं ठीक न होना
परिवार में समस्याएं होना
नौकरी का अचानक बदल जाना या नौकरी से निकाल देना
बच्चो की फ़िक्र रहना
अपने नजदीकी रिश्तो में किसी की मृत्यु हो जाना
कर्ज का होना
पैसो की तंगी होना
अपने जीवन से संतुष्ट न हो पाना
किसी चीज के अपेक्षा रखना
सपनो का पूरा न हो पाना
परीक्षा में फ़ैल हो जाना
नौकरी न लग पाना

 


तनाव को दूर करने के आसान उपाय : कैसे बचे तनाव से ?
अगर तनाव को सही समय पर पहचान लिया जाए तो इससे निकलना काफी आसान हो जाता है। यहां पर आपको तनाव से निकलने के तरीके बताये जा रहे है। आप तनाव से निकलने के लिए इन्हें अपनाना शुरू करे।

सही लाइफस्टाइल चुने
अपने समय का प्रबंधन करे
सकारात्मक सोच जरुरी है

स्वयं के लिए समय निकाले
संबंधियों के साथ रहे
दूसरों की मदद करें
सुबह जल्दी उठें
व्यायाम करें और तनाव भगाएं
दोस्तों से बात करे
नशे से दूर रहे
केला खाएं और तनाव कम करे
पोटेशियम ले
अपनी Hobby को वक्त दे
ठन्डे पानी से नहाये
गहरी नींद ले
योगा करे
नहीं कहना भी सीखे
हंसाने वाली चीजो से जुड़े
रोजाना ध्यान करे
घूमने की योजना बनाये
पसंदीदा Music सुने
आध्यात्म को अपनाये
झूठ कभी भी न बोले
अच्छी किताबे पढ़े
बेकार बातो को टाल दे
बुरी आदतों को त्याग दे
एक समय में एक काम करे
अच्छा भोजन और आहार ले
मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दे
डॉक्टर से सलाह ले

बताये गये सभी टिप्स को आजमाने के बाद भी आपके तनाव में कोई कमी नहीं आती है तो आप डॉक्टर से इस बारे में सलाह ले।