स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

independence day 2019 : भारत माता की प्रतिमा के साथ निकली रैली

Bhupendra Malviya

Publish: Aug 15, 2019 09:44 AM | Updated: Aug 15, 2019 09:44 AM

Vidisha

स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में हुए विभिन्न आयोजन

विदिशा। स्वतंत्रता दिवस independence day 2019 पर विभिन्न आयोजन हुए। सुबह शिक्षा विभाग ने दौड़ का आयोजन किया। इसमें स्कूली विद्यार्थी शामिल रहे। वहीं हिन्दू जागरण मंच ने रैली एवं अभाविप ने तिरंगा यात्रा का आयोजन किया। सुबह शिक्षा विभाग के बैनर तले विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थी बडज़ात्या स्कूल में एकत्रित हुए। यहां से दौड़ का आयोजन शुरू हुआ। इस मौके पर विधायक शशांक भार्गव सहित सहायक संचालक अनिता दीक्षित, शालेय खेल अधिकारी विनोद चौधरी, शिक्षक विजय श्रीवास्तव प्रमुख रूप से मौजूद रहे। इस दौरान उत्कृष्ट विद्यालय, शासकीय एमएलबी, जैन हायर सेकेंड्री स्कूल, सनराइजर्स स्कूल आदि के विद्यार्थी एकत्रित रहे।

 

 

mp

तिरंगा एवं भगवा ध्वज लिए युवा चल रहे थे

विधायक भार्गव ने हरीझंडी दिखाकर दौड़ का शुभारंभ कराया। रैली में शामिल रही महापुरुषों की तस्वीरें इधर हिन्दू जागरण मंच ने माधवगंज चौराहे से रैली निकाली। वंदे मातरम, भारत माता की जयकारों के साथ शुरू हुई यह रैली प्रमुख मार्ग से होकर जयस्तंभ चौराहा पहुंची। रैली में विभिन्न महापुरूषों के बड़े चित्र एवं भारत माता की प्रतिमा शामिल रही। गाजे बाजे एवं देशभक्ति गीतों के साथ तिरंगा एवं भगवा ध्वज लिए युवा चल रहे थे।

 

कॉलेज के सामने से तिरंगा यात्रा निकाली

रैली में महेंद्र रघुवंशी विभाग सेवा प्रमुख आरएसएस, हिन्दू जागरण मंच के अध्यक्ष धर्मेंद्र मिश्रा सहित सुरेंद्रसिंह चौहान, मनोज सोलंकी, ध्रुव चतुर्वेदी, तपन तिवारी आदि शामिल रहे। तिरंगा यात्रा में गूंजे वंदे मातरम के नारे वहीं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने जैन कॉलेज के सामने से तिरंगा यात्रा निकाली। अखंड भारत दिवस एवं धारा ३७० हटने के उत्साह में यह रैली निकाली गई।

 

कार्यकर्ता शामिल रहे

वंदे मातरम एवं भारत माता के जयकारे लगाते हुए यह रैली नीमताल पहुंची जहां समापन हुआ। इसमें नगरमंत्री नमन जैन सहित जिला संयोजक अमित जोशी, राहुल गुर्जर, सचिन विश्वकर्मा, नीरज सेन, महेंद्र अहिरवार, हेमराज अहिरवार, प्रदीप अहिरवार, रूपाली किरार आदि कार्यकर्ता शामिल रहे।