स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिले के तीन ब्लॉक में जलस्तर सवा मीटर तक, 15 साल में ऐसा पहली बार

Krishna singh

Publish: Oct 18, 2019 07:02 AM | Updated: Oct 17, 2019 00:14 AM

Vidisha

औसत से अधिक बारिश होने के कारण जिले में बढ़ा ग्राउंड वाटर लेवल

अनिल सोनी. विदिशा. जिले में औसत से काफी अधिक बारिश होने से इस वर्ष जिले का भू-जल स्तर विगत 15 वर्षों की तुलना में काफी ऊपर आ गया है। वहीं जिले की ग्यारसपुर, नटेरन और कुरवाई तहसील में भू-जल स्तर सवा मीटर तक पहुंच गया है। जिससे लोगों को अगले वर्ष पानी की किल्लत से नहीं जूझना पड़ेगा। जिलेभर में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के कुल 100 कुआं के माध्यम से भू-जल सर्वे विभाग द्वारा भू-जल स्तर की जांच साल में चार बार की जाती है। जिससे पता चलता है कि भू-जल स्तर नीचे जा रहा है या ऊपर आ रहा है। विभाग द्वारा अगस्त 2019 में जब इन कुओं के माध्यम से भू-जल स्तर का सर्वे करवाया, तो चौकाने वाले आंकड़े सामने आए। ग्यारसपुर में 2006 से लेकर अब तक में सबसे ज्यादा भू-जल स्तर 1.39 मीटर तक आ गया, जो कि अब तक रिकार्ड है। नटेरन में 13 साल में पहली बार भू-जल स्तर 3.35 पह आया है। कुरवाई में भी भू-जल स्तर 14 साल में पहली बार 1.80 मीटर तक पहुंच गया है। भू-जल स्तर बढऩे से इन क्षेत्रों में कम से कम सालभर पानी की किल्लत नहीं होगी और हैंडपंप के बोर आदि नहीं सूखेंगे।

14 साल में दूसरी बार बढ़ा पूरे जिले का औसत भू-जलस्तर
वर्ष 2006 से 2019 तक प्रत्येक साल अगस्त माह में लिए गए भू-जल स्तर के आंकड़ों पर नजर डालें तो 14 साल में दूसरी बार जिले का भू-जल स्तर काफी बढ़ है। 2016 में यह 2.22 मीटर तक आ गया था। इसके बाद दो साल तक भू-जल स्तर गिरा और फिर अगस्त 2019 में बढ़कर 2.34 मीटर पर आ गया।

पानी की नहीं होगी सालभर किल्लत
जि ले में भू-जल स्तर इस बार काफी बढ़ जाने से सालभर पानी की किल्लत नहीं होगी। जिले के सभी डेम और जलाशय पानी से लबालब हो गए हैं। भू-जल स्तर बढऩे से हैंडपंप, बोर आदि नहीं सूखेंगे। जिससे किसानों को भी फायदा होगा और सिंचाई के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा।

भू-जल स्तर के आंकड़े मीटर में
वर्ष ग्यारसपुर नटेरन कुरवाई
2007 4.35 5.63 4.28
2008 4.01 5.22 3.86
2009 4.44 5.66 4.70
2010 4.83 6.20 4.88
2011 4.46 5.38 4.21
2012 3.76 4.89 4.30
2013 2.93 3.61 3.06
2014 4.58 6.50 4.53
2015 2.30 4.17 2.50
2016 1.73 3.72 2.25
2017 3.54 6.66 4.06
2018 3.60 5.96 4.12
2019 1.39 3.35 1.80

जिले के आंकड़े (अगस्त)
वर्ष भू-जल स्तर मी.
2006 3.07
2007 4.67
2008 4.38
2009 4.80
2010 5.15
2011 4.51
2012 4.30
2013 3.12
2014 5.00
2015 3.25
2016 2.22
2017 5.15
2018 4.88
2019 2.34

इस साल औषत से अधिक बारिश हो जाने के कारण भू-जल स्तर काफी बढ़ गया है, जो अगस्त माह में किए गए सर्वे में 2.34 मीटर तक आ गया। 14 साल में दूसरी बार भू-जल स्तर इतना बढ़ा है। वहीं तीन तहसीलों में करीब 13 से अधिक साल बाद इतना अधिक भू-जल स्तर बढ़ा है। जिसका लाभ जिलेवासियों को मिलेगा।
-आरसी शर्मा, सहायक भूजल विद्, विदिशा