स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वसूली के लिए बड़े बकायादारों के काटे जा बिजली कनेक्शन, इस बार 239 लाख यूनिट ज्यादा हुई खपत

Deepesh Tiwari

Publish: Aug 21, 2019 12:20 PM | Updated: Aug 21, 2019 12:22 PM

Vidisha

बिजली कंपनी का जिलेभर में 23 करोड़ रुपए बकाया...

विदिशा। विदिशा। एक ओर जहां मध्यप्रदेश सरकार ने हर माह 150 यूनिट तक बिजली खपत करने वाले सभी घरेलू उपभोक्ताओं को शुरुआती 100 यूनिट बिजली एक रुपये की दर से देने का फैसला किया है।

वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में बिजली कंपनी बड़े बकायादारों से बिल राशि वसूलने के लिए सख्त हो गई है। जिले में कंपनी को अभी 23 करोड़ रुपए से ज्यादा की वसूली करना है, इसकी वसूली के लिए बड़े बकायादारों के बिजली कनेक्शन काटे जा रहे हैं।

औद्योगिक, कमर्शियल और घरेलू सहित सौ फीसदी डिफाल्टर ग्रामों के थोक में भी कनेक्शन काटे जा रहे हैं। सोमवार को ही दो गांवों की पूरी बिजली काट दी गई। यह भी खास बात है कि इस बार पिछले साल की तुलना में करीब 239 लाख यूनिट बिजली की ज्यादा खपत हुई है।

बकायादारों पर कार्रवाई
औद्योगिक क्षेत्र के कनेक्शन में एक लाख रुपए से ज्यादा की राशि के बकायादार जिले में 74 हैं, इनसे 148 लाख रुपए वसूलने हैं। इनमें से 17 बकायादारों से 16 लाख 82 हजार रुपए वसूले जा चुके हैं। जबकि 1 करोड़ 31 लाख रुपए से ज्यादा की बकाया राशि होने पर 57 बकायादारों के कनेक्शन काट दिए गए हैं।

इसी तरह कमर्शियल कनेक्शनों में एक लाख रुपए से ज्यादा के बकायादार 167 हैं, इनसे जिले में 2 करोड़ 94 लाख रुपए वसूले जाना हैं, इनमें से 17 बकायादारों से 14 लाख 49 हजार वसूले जा चुके हैं। जबकि राशि जमा न करने वाले 150 बकायादारों के कनेक्शन काट दिए गए हैं। इनसे 2 करोड़ 79 लाख रुपए की वसूली की जाना है।

विदिशा संभाग में ही औद्योगिक कनेक्शन के एक लाख से अधिक बकाया वाले कनेक्शनधारियों में 45 कनेक्शन काटे गए हैं। इसी तरह विदिशा संभाग में 71 कमर्शियल कनेक्शन भी काटे गए हैं।

50 ट्रांसफार्मरों का सौ फीसदी बकाया
केवल विदिशा संभाग में ही 50 ट्रांसफार्मरों का सौ प्रतिशत पैसा बकाया है। यानी इन्होंने कोई पैसा जमा ही नहीं किया। ऐसे उपभोक्ताओं की लाइट भी काट दी गई है।

काटी थी लाइट, लेकिन फिर जोड़ ली
गुलाबगंज क्षेत्र के माला और मुंगवारा गांव में बिजली कंपनी की टीम ने सौ फीसदी बकाया होने के कारण सोमवार को बिजली काट दी थी, लेकिन मंगलवार को बिजली कंपनी को फिर इन गांवों में बिजली अनाधिकृत तरीके से जोड़ लेने की सूचना मिली है। कंपनी अब फिर कार्रवाई करने की तैयारी में है।

इस वर्ष ज्यादा बिजली खपत
बिजली कंपनी के आंकड़े कहते हैं कि इस बार जिले में बिजली की खपत भी पिछले साल से ज्यादा हुई है। जून 2018 तक जहां जिले में 278 लाख से ज्यादा यूनिट बिजली खर्च हुई थी, वहीं जून 2019 तक जिले में 392 लाख यूनिट से ज्यादा बिजली खर्च हो चुकी है।

अब 5 हजार से ज्यादा के बकायादारों पर नजर
बिजली कंपनी की नजर अब ऐसे उपभोक्ताओं पर है, जिन पर लम्बे समय से 5 हजार या इससे ज्यादा की राशि बकाया है। कमर्शियल क्षेत्र में विदिशा संभाग के ही ऐसे 1732 कनेक्शन हैं, जिनसे 531 लाख रुपए वसूले जाना हैं। इनमें से 120 उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे जा चुके हैं। जबकि विदिशा संभाग के ही 5 हजार से ज्यादा की राशि बकाया वाले 107 औद्यागिक कनेक्शन काटे जा चुके हैं।

जिले में वसूली और बकाया
- जिले का लक्ष्य (जुलाई 19 तक) 88 करोड़ 55 लाख रुपए
- जिले में वसूली (जुलाई 19 तक) 60 करोड़ 13 लाख 46 हजार
- जिले में बकाया जो वसूलना है 23 करोड़ 41 लाख 54 हजार

बिजली कंपनी अब बिल राशि जमा न करने वालों के खिलाफ सख्त है। बड़े बकायादारों पर पहले कार्रवाई की जा रही है। जो बिल राशि जमा नहीं कर रहे हैं उनके कनेक्शन सख्ती से काटे जा रहे हैं। यह प्रक्रिया सतत रूप से जारी रहेगी।
- एसपी शर्मा, अधीक्षण यंत्री, बिजली कंपनी, विदिशा