स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बिजली संकट को हो जाएं तैयार दो दिनों तक बिजली गई तो नहीं ठीक होगा फाल्ट

Ajay Chaturvedi

Publish: Aug 18, 2019 18:49 PM | Updated: Aug 18, 2019 18:49 PM

Varanasi

जूनियर इंजीनियरों का सोमवार से दो दिन का कार्य बहिष्कार
पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम कार्यालय पर होगा धरना प्रदर्शन
केंद्रीय टीम ने प्रस्तावित धरना प्रदर्शन की सफलता को बनाई रणनीति

वाराणसी. पावर कारपोरेशन के जूनियर इंजीनियर्स के आंदोलन के अगले चरण में अब 19 व 20 अगस्त को बनारस सहित पूरे प्रदेश मे कोई काम नहीं होगा। किसी तरह का फाल्ट ठीक नहीं किया जाएगा। इंजीनियर बिजली मुख्यालयों पर देंगे धरना और करेंगे प्रदर्शन।

राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन के प्रदेशव्यपी आंदोलन केद्वितीय चरण में 19-20 अगस्त को जनपद स्तरीय ध्यानाकर्षण कार्यक्रम की शुरुआत होगी। इसकी तैयारी के बाबात रविवार को हाईडिल कालोनी में संगठन के केंद्रीय पदाधिकारियों ने ने स्थानीय जूनियर इंजीनियरों संग लंबी बैठक की। लखनऊ से आए केंद्रीय अध्यक्ष आर के त्रिवेदी ने अवर अभियंताओं और प्रोन्नत अभियंताओ से संगठन कार्यालय में मुलाकात कर ध्यानाकर्षण कार्यक्रम को शत प्रतिशत सफल बनाने का आह्वान किया।

Power Corporation Junior Engineer Meeting

केंद्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष जीबी पटेल व केंद्रीय महासचिव जयप्रकाश ने वाराणसी, जौनपुर, ग़ाज़ीपुर व चंदौली जिले के अवर अभियंताओ व प्रोन्नत अभियंता सदस्यो से खचाखच भरे संगठन कार्यालय "केशव सदन" में संगठन की प्रमुख मांगों का उल्लेख किया। मांगें इस प्रकार हैं...

प्रमुख मांगें

- ग्रेड पे 4600 को 01-01-2006 से लागू करना
-समयबद्ध वेतनमान की पूर्ववर्ती व्यवस्था लागू करना
- जमीनी स्तर पर संसाधन व सुरक्षा उपलब्ध कराना
-पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करना
-सीपीएफ कटौती की व्यवस्था को पारदर्शी बनाना
-नित प्रतिदिन पदाधिकारियों व सदस्यों संग हो रही उत्पीड़नात्मक कार्रवाई तत्काल बंद करना


उन्होंने चेतावनी दी कि ध्यानाकर्षण के बाद भी मांग पूरी न हुई या उत्पीड़न जारी रहा तो आंदोलन और तेज किया जाएगा।

ये भी रहे मौजूद

सभा मे मुख्य रूप से ई केदार तिवारी, अवधेश मिश्रा, आईपी सिंह, राजेश यादव, सर्वेश, संतोष मौर्य, पंकज कुमार, प्रदीप, संजय, नीरज, निर्भीक, विवेक, सुनील सिंह, उपेंद्र, अमित, सुधीर, दीपक आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता सर्वेश शुक्ल और संचालन रत्नेश सेठ ने किया।