स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कमलेश तिवारी की मां ने कहा, PM मोदी हमारे भगवान नहीं

Devesh Singh

Publish: Oct 22, 2019 12:56 PM | Updated: Oct 22, 2019 12:56 PM

Varanasi

मैं भी कुछ कहुंगी तो मेरा भी वही हाल होगा, 24 घंटे में हत्यारों को पकडऩे का किया गया था दावा

वाराणसी. हिन्दू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी की अस्थियां बीती देर रात बनारस में गंगा नदी में विसर्जित कर दी गयी। काशी के गंगा घाट पर अस्थि विसर्जन से पहले विधि विधान से पूजा की गयी। गंगा सेवा निधि के प्रधान अर्चक आचार्य रणधीर के साथ 21 ब्राह्मणों के मंत्रोच्चार के साथ हिन्दू नेता की अस्थियों को गंगा में प्रवाहित किया गया।
यह भी पढ़े:-विमान के उड़ान भरते ही फटा पहिये एक हिस्सा, बड़ा हादसा टला

कमलेश तिवारी की माता कुसुम तिवारी ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार में मुझे नजरबंद किया जा रहा है। मुझे कुछ भी बोलने से रोका जा रहा है यदि मैं कोई बात कहुंगी तो मेरा हाल भी बेटे जैसा हो जायेगा। कुसुम तिवारी ने कहा कि बेटे की हत्या के बाद 24 घंटों में हत्यारों को पकडऩे का दावा किया जा रहा था लेकिन आज चार दिन हो गये हैं और पुलिस हत्यारों को नहीं पकड़ पायी है। कभी हत्यारों के यहा देखने की बात सामने आती है तो कभी वहां। पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में अपनी बात कहने के प्रश्र पर कह कि मैं भगवान शिव की नगरी में आयी हूं। उन्होंने कहा कि हिन्दू की सरकार है और एक हिन्दू मारा गया। इसके बाद क्या हुआ। अस्थि विसर्जन के लिए आये अन्य लोगों ने कहा कि कोई भी सरकार शत प्रतिशत संतुष्ट नहीं कर सकती है। हम लोगों की सरकार की सबसे पहली मांग थी कि हत्यारों को तुरंत गिरफ्तार किया जाये। पुलिस अभी तक हत्यारों को पकड़ नहीं पायी है ऐसे में हम लोग कैसे संतुष्ट हो सकते हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता रोशन पांडेय ने कहा कि मैं भी जिहादियों को टारगेट पर हूं और मुझे कई बार धमकी मिल चुकी है। अस्थि विसर्जन के समय कमलेश तिवारी के बेटे मुदुल तिवारी भी उपस्थित थे।
यह भी पढ़े:-कारोबारी विवाद के चलते हुए थी पूर्व डीआईजी के बिल्डर बेटे की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार के लिए परेशानी का सबब बन गया कमलेश तिवारी मर्डर
सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार के लिए कमलेश तिवारी मर्डर परेशानी का सबब बन गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपराधियों पर सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। यूपी पुलिस ने कुछ आरोपियों को पकड़ लिया है लेकिन हत्या करने वाले दो लोग अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस लगातार इस मामले में नया खुलासा कर रही है।
यह भी पढ़े:-बुलेटप्रूफ कार व लाइसेंसी पिस्टल भी नहीं बचा सकी पूर्व डीआईजी के बेटे की जान, गोली मार कर हत्या