स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश के साथ शूज व्यापारी का हत्यारा भी पकड़ाया

Devesh Singh

Publish: Aug 22, 2019 18:49 PM | Updated: Aug 22, 2019 18:49 PM

Varanasi

15-15 हजार के दो इनामी अपराधी भी शामिल, अरविंद खरवार हत्याकांड के सभी आरोपी हुए गिरफ्तार

वाराणसी. कैंट पुलिस को गुरुवार को बड़ी सफलता मिली है। दो इनामी बदमाश के साथ शूज व्यापारी अरविंद खरवार की हत्या में शामिल एक और आरोपी पकड़ा गया है। सीओ कैंट डा.अनिल कुमार ने बताया कि शूज व्यापारी अरविंद खरवार की हत्या में शामिल सभी सातों बदमाश अब पकड़े जा चुके हैं।
यह भी पढ़े:-पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ



सीओ कैंट डा.अनिल कुमार के अनुसार कैंट पुलिस को सूचना मिली कि 15 हजार के इनामी बदमाश विक्की ठाकुर उर्फ कष्ण कुमार सिंह अकथा तिराहे के पास मौजूद है। मुखबिर की सूचना पर पहुंची पुलिस ने विक्की ठाकुर को अकथा तिराहे से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी के पास से लूट का पर्स, एक आधार कार्ड, तीन एटीएम, एक मोबाइल बरामद किया है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह कई बार जेल जा चुका है और लूट के एक मुकदमे में फरार चल रहा था। आरोपी पर थाना कैंट में ही एक दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज है। इसी क्रम में कैंट पुलिस ने 15 हजार के एक और इनामी बदमाश नेहाल खान निवासी बिहार को भी पकड़ा है। नेहाल पर विभिन्न थाने में मुकदमे दर्ज है और 27 सितम्बर 2018 को वरुणा कॉरीडोर से जेसीबी मशीन भी चुराने का आरोप है। इस मामले में उसके अन्य साथी पहले ही जेल जा चुके हैं।
यह भी पढ़े:-डा.रीना सिंह मर्डर केस में बड़ा खुलासा, एफएसएल ने एसएसपी को सौंपी अपनी रिपोर्ट



शूज व्यापारी हत्याकांड का मुख्य आरोपी भी पकड़ा गया
कैंट पुलिस ने शूज व्यापारी अरविंद खरवार हत्याकांड में बचे हुए सांतवे आरोपी विनय हरिजन को भी पकडऩे में सफलता पायी है। विनय ने ही 16 अगस्त को शूज व्यापारी अरविंद खरवार की अपने साथियों के साथ मिल कर चाकू से हत्या कर दी थी। इस मामले ने तूल पकड़ लिया था और पुलिस ने हत्याकांड में शामिल छह आरोपी को पहले ही पकड़ा था लेकिन विनय हरिजन फरार चल रहा था। विनय के ही ओटो पर बैठ कर उसके साथी आये थे और सभी ने मिल कर शूज व्यापारी की हत्या की थी। तीनों बदमाशों को पकडऩे मेें कैंट थाना प्रभारी अश्वनी कुमार चतुर्वेदी, एसआई अशोक कुमार, प्रेम सिंह, रामानंद यादव, संतोष शाह आदि पुलिसकर्मी शामिल रहे।
यह भी पढ़े:-बावरिया गिरोह ने बैंक मैनेजर के घर लाखों की नगदी व जेवरात उड़ाये, सीसीटीवी फुटेज हुई वायरल