स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रोक दिया आम रास्ता, क्विक रिस्पांस टीम ने कराया समस्या का निराकरण्र

Ramashankar mishra

Publish: Jul 17, 2019 12:38 PM | Updated: Jul 17, 2019 12:38 PM

Umaria

जनसुनवाई में महिलाओं ने कलेक्टर से की थी शिकायत

उमरिया. नगर पालिका उमरिया के वार्ड नंबर 12 झाडू मोहल्ला से आई महिलाओं ने बताया कि मोहल्ले के दबंग व्यक्ति द्वारा आम रास्ता रोक दिया गया है। जिससे आने जाने में काफी परेशानी होती है। कलेक्टर ने प्रकरण की गंभीरता समझते हुए तहसीलदार बांधवगढ दिलीप सिंह के नेतृत्व में क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) को मौके पर भेजा गया। शिकायतकर्ता की उपस्थिति में जांच की गई तथा पाया गया कि बसंत सिंह द्वारा रास्ते में निर्माण कराया जा रहा था। निर्माण कार्य तोडकर आवेदकों को आवागमन मार्ग उपलब्ध कराते हुए संबंधित को समझाइश भी दी गई, की गलती की पुनरावृत्ति नही करे। दल में राजस्व निरीक्षक एवं पटवारी शामिल रहे। इसी तरह नौरोजाबाद तहसील के ग्राम बडा गावं से आये बिहारी कोल ने बताया कि वह आराजी खसरा नंबर 365 रकवा 1.627 हे0 में वर्ष 1958 से काबिज कास्त करता चला आ रहा है। उसने बताया कि अपनी जमीन पर मेढ बंधान में हमने लाखो रूपये व्यय किए है। किंतु राजस्व निरीक्षक द्वारा सीमांकन कर यह जमीन मोलइया यादव की बता दी गई है। कलेक्टर ने प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए तहसीलदार नौरोजाबाद को आज ही मौका मुआयना कर प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए।
अरुण को संबल व संध्या को पेंशन का लाभ
जनसुनवाई कार्यक्रम के दौरान ग्राम पंचायत महरोई निवासी अरूण तिवारी ने 11 जून 2019 को आवेदन दिया था कि उनकी पत्नी की मौत 25 जुलाई 2018 को हो गई है , किंतु उन्हें संबल योजना का लाभ नही मिला है। मंगलवार को पुन: अरूण तिवारी जनसुनवाई सह जन संवाद कार्यक्रम में उपस्थित होकर बताया कि पत्नी की मृत्यु के पश्चात संबल योजना के तहत दो लाख रूपये उनके खाते में जमा करा दिए गए है। जिस पर उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की तथा कलेक्टर को धन्यवाद ज्ञापित किया। इसी तरह नगर पालिका उमरिया अंतर्गत वार्ड नंबर 7 निवासी संध्या दुबे आवेदन लेकर आई हुई थी, उन्होने बताया कि उनके पति अमित दुबे की मृत्यु बीमारी से हो चुकी है। अब मेरे एक बेटी अनन्या दुबे है किंतु उसकी परवरिश के लिए आय का कोई साधन नही है। इसलिए विधवा पेंशन का लाभ दिलाया जाए। सीएमओ एस के गढपले ने पेंशन स्वीकृत करते हुए आदेश प्रदान किया।