स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दक्षता उन्मूलन में लापरवाही, निरीक्षण में मिली कमियां

Ramashankar mishra

Publish: Jul 20, 2019 11:56 AM | Updated: Jul 20, 2019 11:56 AM

Umaria

स्कूलों में शैक्षणिक स्तर सुधारने किए जा रहे प्रयास

उमरिया. कलेक्टर स्वरोचिश सोमवंशी एवं जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा शा. प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं में संचालित दक्षता उन्नयन कार्यक्रमों की सतत् मानीटरिंग के निर्देश दिये गये है। निर्देश के अनुक्रम में जिला शिक्षा केन्द्र की टीम द्वारा शा. प्राथमिक शाला, माध्यमिक शाला बरही एवं शा. प्राथमिक- माध्यमिक शाला धनवार का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। शा. प्राथमिक- माध्यमिक शाला बरही में शिक्षको द्वारा एकीकृत समय सारणी के अनुसार दक्षता कार्यक्रम का संचालन नही पाया गया। साथ ही उक्त विद्यालय में विषय शिक्षको के द्वारा छात्रों की अभ्यास पुस्तिकाओं की जांच, त्रुटि चिन्हाकन व टीप अंकित नही की जा रही है। नियमित रूप से अभ्यास पुस्तिकाओं की जांच भी नही की जा रही है। जुलाई माह के मासिक मूल्यांकन के आधार का पाठ्यक्रम विभाजित नही किया गया है। निरीक्षण में पाया गया कि आज दिनांक तक विद्यालय द्वारा पूर्व वर्ष के ईण्डलाईन टेस्ट के आधार पर छात्रों का समूह विभाजन नही किया गया और न ही एकीकृत समय विभाग चक्र बनाकर उसका पालन किया गया। कक्षा 1 से 5 के छात्रों की दक्षता अति न्यून पाई गई। शिक्षको द्वारा दक्षता उन्नयन के स्तर अनुसार चाईल्ड ट्रेकर भी तैयार नही किया गया। कक्षा 5 एवं कक्षा 8 की विशेष तैयारी का अभाव- आरटीई अधिनियम में संशोधन के उपरान्त शिक्षा सत्र 2019-20 में कक्षा 5 एवं कक्षा 8 की वार्षिक परीक्षा बोर्ड पैटर्न पर संचालित की जानी है। समस्त शिक्षको को प्रशिक्षण के दौरान उक्त प्रक्रिया से अवगत कराया गया है। निरीक्षण के दौरान दोनो विद्यालयों में कक्षा 5 एवं 8 के अध्ययन अध्यापन की विशेष रणनीति अभी तैयार नही की गई है। विदित हो कि इस शिक्षण सत्र में कक्षा 5 एवं 8 वी की त्रैमासिक एवं छमाही परीक्षा का भी आयोजन किया जाना है। निरीक्षण में पाई गई कमियों को ध्यान में रखते हुए उपरोक्त विद्यालय के प्रधानाध्यापको एवं शिक्षको को स्थिति सुधार की चेतावनी देते हुए कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया गया है। स्थिति में सुधार न होने की स्थिति में अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रस्तावित की गई है।