स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जहां था अतिक्रमण, वहां नजारा ही बदला... ये बोले व्यापारी

rajesh jarwal

Publish: Aug 19, 2019 07:00 AM | Updated: Aug 19, 2019 00:30 AM

Ujjain

मामला हाट बाजार में टीनशेड सहित अन्य जगह पर हो रहे अतिक्रमण का

शाजापुर. रविवार को हाट बाजार का नजारा बदला हुआ था। करीब ६० व्यापारियों का अतिक्रमण हटाने के बाद व्यापार करने आए लोगों को पर्याप्त जगह मिल पाई। टीनशेड में व्यापारियों ने दुकानें लगाई, ओटलों पर भी सब्जीवालों को जगह मिली। इसके पहले बाहर से आने वाले व शहरी व्यापारियों को हाट बाजार में व्यापार करने के लिए जगह नहीं मिल पा रही थी। कारण था हाट बाजार में बनाए गए टीनशेडों में थोक व्यापारियों द्वारा कब्जा जमा लिया गया था। साथ ही अनेकों गुमटियां भी हाट बाजार में रख ली गई। रविवार को हाट बाजार में आए व्यापारियों ने कहा कि नगर पालिका को ये कार्रवाई पहले ही कर लेना थी। अब कार्रवाई के बाद काफी राहत मिली है, लेकिन अब भी अनेक व्यापारियों ने अधिक जगह घेर रखी है। जिस पर भी सवाल उठाए।
बता दें कि शनिवार को नगर पालिका अमले ने हाट मैदान में शनिवार को स्थानीय थोक व्यापारियों और अन्य लोगों द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाया था। इस दौरान नगर पालिका ने हाट बाजार में किए गए करीब 60 अवैध अतिक्रमणों को हटाया। इसे लेकर गत दिनों कुछ व्यापारियों ने शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके चलते नपा ने हाटा बाजार के एक दिन पहले शनिवार को यह कार्रवाई की। अतिक्रमण से बाहर से यहां व्यापार करने आने वाले व्यापारियों को भी जगह नहीं मिल पा रही थी। कुछ लोगों ने टीन शेडों पर कब्जा कर चारों ओर जालियां लगाकर कब्जा कर लिया था तो किसी ने गोडाउन बना लिया। शिकायत को नगर पालिका ने गंभीरता लेते हुए शनिवार को अतिक्रमण हटाने के लिए पुलिस बल, जेसीबी और अपने अमले के साथ नपा टीम पहुंची और अतिक्रमण हटाया गया।
कीचड़ की समस्या भी होगी हल
नगर पालिका सीएमओ भूपेंद्रकुमार दीक्षित ने बताया कि हाट मैदान का अनेक हिस्सा कच्चा है, जिससे बारिश के समय कीचड़ पसर जाता है। आगामी दिनोंं में हाट बाजार में अनेकों कार्य किए जाना है। सबसे पहले जिस स्थान पर कीचड़ जमा होता है, वहां मुरम डालकर ये समस्या हल की जाएगी। जिससे दुकानदारों और ग्राहकों को किसी तरह की परेशानी न हो।
टीनशेड में जगह नहीं मिलने से इधर-उधर दुकान लगाते थे, अतिक्रमण हटा तो जगह मिली है। अभी भी अव्यवस्थाएं हैं। अनेक दुकानदारों ने अधिक जगह घेर रखी है। सभी को बराबर दुकान आवंटित की जाना चाहिए।
प्रदीप राठौर, दाल व्यापारी सारंगपुर
टीनशेड में जगह नहीं मिलने पर टॉकिज के पास दुकान लगाते थे। अब जगह खाली हुई तो यहां लगाई है। नगर पालिका ने अच्छी कार्रवाई की। ओलटो पर सभी को जगह मिलनी चाहिए।
हरीसिंह, व्यापारी
अतिक्रमण होने से छोटे व्यापारियों को लाभ नहीं मिल रहा था। अब सारे ओटले खाली हो गए हैं। दाल वाले, सब्जी वाले सभी को जगह मिली है। अब कीचड़ की समस्या और हल हो जाए, तो ग्राहक हर दुकान तक पहुंचेगा।
सुनील राठौर, व्यापारी
मैं सारंगपुर से व्यापार करने आता हूं, अभी रोड़ किनारे जगह मिली है, वहीं पर दुकान लगा रहा हूं। अतिक्रमण हटने से अधिक लोगों को जगह मिली है। यहां बने गोडाउन से काफी बदबू आती थी। जिससे निजात मिल गई। रफीक खान, व्यापारी
टीनशेड पर हमें तो पहले से ही जगह मिल रही है। यहां गोडाउन जैसे हो गए थे, जिससे सामान भरा होने से काफी बदबू आती थी। अब अतिक्रमण हट गया है तो बदबू भी खत्म हो जाएगी।
संदीप गौतम, व्यापारी
मैं यहां सालों से हाट बाजार में आ रहा हूं अपनी दुकान लगा रहा हूं। अतिक्रमण होने से हाट बाजार का नक्शा ही बदल गया था। अब अतिक्रमण हटने से अच्छा लग रहा है। ग्राहकों को भी सभी दुकाने नजर आएंगी।
रामेश्वर गौतम, व्यापारी