स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महाकाल दर्शन के लिए लंबी कतार में नहीं खड़ा होना पड़ेगा, ऑनलाइन सॉफ्टवेयर होगा और बेहतर...

Lalit Saxena

Publish: Sep 20, 2019 08:08 AM | Updated: Sep 19, 2019 21:58 PM

Ujjain

Ujjain News: 250 रुपए की टिकट ऑनलाइन बुकिंग कराने के बाद श्रद्धालुओं को पता चल सकेगा किस समय होंगे आराम से दर्शन

उज्जैन. विश्व प्रसिद्ध भगवान महाकालेश्वर के दरबार में पर्व-त्योहारों या अन्य अवसरों पर उमडऩे वाली भीड़ को देखते हुए मंदिर प्रबंध समिति अपने ऑनलाइन सॉफ्टवेयर में बड़ा बदलाव करने जा रही है। इससे यह होगा कि जो दर्शनार्थी २५० रुपए शीघ्र दर्शन रसीद की बुकिंग कराएंगे, उन्हें मंदिर में भीड़ की ताजा स्थिति पहले से पता चल जाएगी। सॉफ्टवेयर में बदलाव से पहले गुरुवार को धरातल पर इस व्यवस्था को प्रायोगिक तौर पर आकलन भी किया गया।

ऑनलाइन सॉफ्टवेयर को और भी बेहतर किया जा रहा
आने वाले समय में महाकाल दर्शन के लिए आपको लंबी कतार में नहीं खड़ा होना पड़ेगा, क्योंकि मंदिर समिति की ओर से ऑनलाइन सॉफ्टवेयर को और भी बेहतर किया जा रहा है। 250 रुपए की शीघ्र दर्शन टिकट लेने वाले दर्शनार्थियों के लिए फिलहाल इस व्यवस्था को तैयार किया जा रहा है। इससे उन्हें मंदिर में वर्तमान स्थिति तो पता चलेगी ही, साथ ही शंख द्वार से कार्तिकेय मंडपम् तक पहुंचने में लगने वाले समय का भी पहले से पता चल जाएगा।

743 लोग शंखद्वार से कार्तिकेय मंडपम तक 35 मिनट में पहुंचे
गुरुवार को उपप्रशासक आशुतोष गोस्वामी और मंदिर सुरक्षा प्रभारी रूबी यादव ने धरातल पर इस व्यवस्था को उतारा। सुबह, दोपहर और शाम के समय दर्शनार्थियों की संख्या का आंकड़ा मिनट दर मिनट के हिसाब से निकाला गया, तो ७४३ लोग शंखद्वार से कार्तिकेय मंडपम के चैनल तक करीब ३५ मिनट में पहुंचे। इससे यह अनुमान लगाया जाएगा कि सॉफ्टवेयर में क्या बदलाव किया जाए, जिससे आने वाले श्रद्धालुओं को समय का सही व सटीक अनुमान लग जाए।

क्या है वर्तमान की स्थिति
महाकाल मंदिर में वर्तमान की स्थिति यह है कि दर्शनार्थी मंदिर आने के बाद 250 रुपए की टिकट खरीदता है और वीआईपी गेट से प्रवेश के बाद आम दर्शनार्थियों की लाइन में लग जाता है। हालांकि इस टिकट से उसे ज्यादा घूमना नहीं पड़ता, उन्हें शीघ्रता से दर्शन हो जाते हैं।

यह व्यवस्था 250 रुपए शीघ्र दर्शन टिकटधारी दर्शनार्थियों के लिए
फिलहाल यह व्यवस्था 250 रुपए शीघ्र दर्शन टिकटधारी दर्शनार्थियों के लिए की जाएगी, आने से पहले उन्हें मंदिर में भीड़ की वस्तुस्थिति का पता चल सकेगा।

- एसएस रावत, प्रशासक महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति।