स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यहां से गुजरे तो हो जाएं सावधान... क्योंकि यहां खतरनाक है स्पीड ब्रेकर

Mukesh Malavat

Publish: Jul 20, 2019 08:02 AM | Updated: Jul 20, 2019 01:50 AM

Ujjain

अनदेखी: मार्ग से गुजरने वाले वाहन चालक हो रहे हादसे के शिकार

नागदा. गवर्नमेंट कॉलोनी रोड स्थित हाल में बना स्पीड ब्रेकर राहगीरों के लिए परेशानी खड़ा कर रहा है। कारण ब्रेकर को मानक क्षमता से अधिक ऊंचा बना दिया गया है। मार्ग से गुजरने वाले वाहन चालक ब्रेकर से गुजर कर दुर्घटनाओं की चपेट में आ रहे हैं। दरअसल बीते दिनों हुई बारिश ने गर्वनमेंट कॉलोनी क्षेत्र में जलभराव कर दिया था। शिकायत के बाद मौके पर पहुंचे नपा अमला सदस्यों ने नालियों की निकासी करने वाले प्रमुख नाले की खुदाई की थी। जिसके बाद नाले पर एक लोहे की जाल बनाकर एक बड़े डे्रेनेज प्वाइंट का निर्माण किया, लेकिन जिम्मेदारों ने नाले के ऊपरी बेस पर करीब 3.5 फीट ऊंचा ब्रेकर बनाकर लोगों के लिए परेशानी खड़ी कर दी। हालात यह है कि चौपहिया वाहन ब्रेकर पर पहुंचते ही फंस रहे है। रात्रि के दौरान ब्रेकर दिखाई नहीं देने से लोग दुर्घटना ग्रस्त हो रहे हैं।
खाचरौद पहुंचने का प्रमुख मार्ग-ब्रेकर जिस स्थान पर बनाया गया है। वह खाचरौद व मंडी क्षेत्र को जोडऩे वाला प्रमुख रास्ता है। मार्ग से प्रतिदिन हजारों लोग गुजरते है, जिसमें जावरा मंदसौर की ओर जाने वाले भारी वाहन भी शामिल है। ब्रेकर निर्माण के दौरान मार्ग पर करीब एक सप्ताह तक यातायात बाधित रहा था, जिसके कारण लोगों को एक किमी का फेरा लगाकर अशोक कॉलोनी क्षेत्र से होकर बिरलाग्राम पहुंचना पड़ रहा था। मार्ग के बाधित होने से सबसे अधिक स्कूली बसों व मैजिक चालकों को परेशान होना पड़ा।
आंकड़ों पर एक नजर
मार्ग का नाम गर्वनमेंट कॉलोनी रोड
ब्रेकर की ऊंचाई 3.5 फीट
मानक ऊंचाई 2 से 2.5 फीट
उपयोग 2 हजार से अधिक वाहन
पिछली सीट पर बैठे व्यक्ति को नुकसान
मार्ग पर ब्रेकर को इस कदर ऊंचा बना दिया कि ब्रेकर पर पहुंचते ही पिछली सीट पर बैठा व्यक्ति उछल जाता है। सबसे अधिक परेशानी मार्ग से होकर गुजरने वाले स्कूली बच्चों को आ रही है। इनमें वह स्कूली बच्चे शामिल है जो प्रतिदिन साइकल से स्कूल पहुंचते है। ब्रेकर पर चढ़ते ही बच्चों का संतुलन खराब हो रहा है। बता दें कि मार्ग पर करीब दर्जन से अधिक शिक्षण संस्थाएं मौजूद है। जिनमें प्रतिदिन सैकड़ों बच्चे अध्ययन के लिए पहुंचते हैं।
नहीं किया समतलीकरण
मार्ग पर ब्रेकर कुछ दिनों पूर्व ही बनाया गया है। निर्माण करने वाली संस्था द्वारा ब्रेकर का समतलीकरण। यानि दोनों ओर से ठीक प्रकार से फिनिशिंग नहीं दी गई है, जिससे ब्रेकर से निकलने वाली गिट्टी बाइक सवारों को फिसलने पर मजबूर कर रही है। राहगीरों को दुर्घटनाग्रस्त होने से बचाने के लिए क्षेत्र के लोगों द्वारा आधे मार्ग पर बैरिकेडिंग कर दी गई है, जिसे देखकर लोग सचेत हो सके।
क्षेत्र के लोगों की शिकायत मिली थी। मौके पर पहुंचकर नपा कर्मचारियों ने ब्रेकर की साइज का निरीक्षण किया है। संभवत: जल्द ही मानक आकार का ब्रेकर बनवाया जाएगा।
सतीश मटसेनिया, सीएमओ, नपा