स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पिता के साथ जयपुर में नकली पैर लगवाने जा रही युवती का अपहरण कर किया बलात्कार

Jitendra Singh Chouhan

Publish: Oct 23, 2019 04:04 AM | Updated: Oct 22, 2019 21:33 PM

Ujjain

खंडवा की रहने वाली युवती और पिता को बदमाश इंदौर रेलवे स्टेशन पर कार से चलने का छलावा देकर उज्जैन लाया, पिता को उज्जैन में ही छोड़कर युवती को इंदौर व सिमरोल में अपने रिश्तेदार के यहां ले जाकर किया बलात्कार

 

उज्जैन. पिता के साथ जयपुर में नकली पैर लगवाने के लिए निकली एक युवती का बदमाश ने अपहरण कर बलात्कार किया। इंदौर में ट्रेन के इंतजार में बैठे पिता-पुत्री को बदमाश कार से जयपुर ले जाने का बोलकर अपने साथ बाइक पर बैठकार उज्जैन ले आया। यहां पिता को छोड़कर पुत्री को साथ ले गया और डरा-धमकाकर उसके साथ बलात्कार किया। पिता ने उज्जैन पुलिस में शिकायत की तो आरोपी को बदनावर से गिरफ्त में लिया।

माधवनगर पुलिस ने बताया कि खंडवा के ग्राम जामली निवासी व्यक्ति २२ वर्षीय पुत्री के साथ जयपुर जाने के लिए २० अक्टूबर को निकला था। पिता-पुत्री इंदौर रेलवे स्टेशन पहुंचे। यहां पर ट्रेन निकल जाने के कारण स्टेशन पर दूसरी ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। इसी दौरान इंदौर के पालदानगर निवासी सुभाष यादव उनके पास आया। उसने दोनों से पहले मेलजोल बढ़ाया और पूछा कि कहां जा रहे हो। पिता ने कहा कि जयपुर जा रहे हैं तो आरोपी ने कहा कि मैं भी कार से इंदौर जा रहा हूं, मेरे साथ चलो। हालांकि पिता ने मना किया लेकिन आरोपी ने दो-तीन दफे ट्रेन बदलने की बात कहकर उन्हें अपने साथ ले लिया। पिता-पुत्री को कार उज्जैन में होने की बात कहकर बाइक से उज्जैन लाया। यहां सांवेर रोड पर दो तालाब के पास युवती को खड़ा किया और पिता को कार लेने चलने की बात कहकर साथ ले गया। पिता को रास्ते में छोड़कर वापस लौटा और पुत्री को अपने साथ इंदौर अपने रिश्तेदार के यहां ले गया। यहां से २१ अक्टूबर को सिमरोल में अपने रिश्तेदार के यहां ले जाकर युवती को डरा धमकाकर बलात्कार किया। इस दौरान युवती को ब्लेड मारकर घायल भी किया और चुप रहने की धमकी दी। यहां से उसे बदनावर ले गया। यहां पर लड़की के साथ बलात्कार किया। उज्जैन में लड़की के पिता ने पुलिस से शिकायत की तो आरोपी को तलाश करते हुए बदनावर पहुंचे। यहां लड़की और आरोपी को पकड़ लिया।

कागज पर हस्ताक्षर करवाए, कहां हम दोनों प्यार करते हैं
बदनावर में आरोपी सुभाष यादव ने युवती के साथ मिलकर नोटरी भी करवाई। इसमें युवती से लिखवाया कि हम दोनों एक-दूसरे को दो साल से जानते है और प्यार करते हैं। युवती खुद ही उससे मिलने के लिए आई थी। हालांकि पुलिस पूछताछ में लड़की ने इसका विरोध किया और कहा कि ऐसा कुछ नहीं था।

पिता को सिगरेट लाने के बहाने छोड़ा
आरोपी सुभाष यादव बाइक से पिता-पुत्री को उज्जैन लाया। यहां कार लाने के लिए पिता को साथ ले गया। रास्ते में उसको कहा कि मैं सिगरेट लेकर आता हूं, यहीं खड़े रहना। बाद में उसे वहीं छोड़कर चला गया।