स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बस एक दिन का इंतजार: फिर एक मंच पर होंगे देश के जाने माने एक सौ यूरोलॉजिस्ट

Sushil Kumar Singh Chauhan

Publish: Sep 20, 2019 06:00 AM | Updated: Sep 20, 2019 03:08 AM

Udaipur

urology राजस्थान यूरोलॉजी सोसायटी की ओर से झीलों की नगरी में होगी कॉन्फ्रेंस

उदयपुर. urology राजस्थान यूरोलॉजी सोसायटी की ओर से दो दिवसीय दो रसकॉन-2019 कॉन्फ्रेस का झीलों की नगरी उदयपुर में 21 सितम्बर को आगाज होगा।
रसकॉन के आयोजक चेयरमेन डॉ. एच.एल.खमेसरा ने बताया कि व्यावहारिक समस्याओं के लिए चिकित्सकों का दृष्टिकोण थीम पर आयोजित राजस्थान यूरोलॉजी सोसायटी की यह पहली वार्षिक कॉन्फ्रेस हैं, जो की झीलों की नगरी में आयोजित की जा रही है इस कॉन्फ्रेस में उदयपुर एवं देश के विभिन्न जगहों पर कार्यरत 100 से ज़्यादा यूरोलॉजिस्ट हिस्सा लेंगे। साथ ही यूरोलॉजी की नई विधाओं के बारे में चर्चा करेंगे।
आयोजक सचिव डॉ. सुनील गोखरू ने बताया कि इस दो दिवसीय रसकॉन-2019 में पहले दिन विभिन्न टैक्नीकल सेशनों के माध्यम से यूरोलॉजी के क्षेत्र में कार्यरत यूरोलॉजिस्ट कार्सिनोमा ब्लेडर,कार्सिनोमा प्रॉस्टेट,स्टोन की बीमारी प्रोस्टेट का बढना,यूरिथ्रा,पाइलोप्लास्टी आदि विषयों पर पत्र वाचन करेंगे। तो वहीं दूसरे दिन रेजिडेन्ट यूरोलॉजिस्टो के लिए मौक़ा दिया जाएगा।
रसकॉन-2019 कॉन्फ्रेस में महात्मा गॉधी मेडिकल कॉलेज जयपुर के यूरोलॉजी विभाग के विभागाध्यक्ष यूरोलॉजिस्ट एवं किडनी ट्रॉसप्लांट सर्जन डॉ.टी.सी सदासुखी, एम्स न्यूदिल्ली के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ.पी.एन.डोगरा, एम्स न्यूदिल्ली के डॉ.एस.पी.यादव,एस.एम.एस.मेडीकल कॉलेज के पूर्व यूरोलॉजिस्ट डॉ.के.के.शर्मा,डॉ.आर.जी.यादव,डॉ.एस.एस.यादव एवं डॉ.मुकेष आर्य सहित अन्य ख्याति प्राप्त यूरोलॉजिस्ट डिस्कशन पेनल एवं एक्सपर्ट पैनल में विचार व्यक्त करेंगे।
कोषाध्यक्ष डॉ.हनुवन्त सिंह राठौड़ ने बताया कि इस कॉन्फ्रेस में राजस्थान के सभी सात पीजी संस्थानों से एम.सी.एच. या डी.एन.बी.यूरोलॉजी कर रहे हैं रेजिडेन्ट डॉक्टरों की भागीदारी पर विशेष ज़ोर दिया जाएगा, जिससे वह यूरोलॉजी के क्षेत्र में हो रही नई एवं एडवास तकनीक से रूबरू हो सकें। urology इस कॉन्फ्रेस के दौरान राजस्थान यूरोलॉजी सोसायटी की निर्देशिका का भी विमोचन होगा।