स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लेकसिटी में कभी नहीं हुआ शतरंज का ऐसा टूर्नामेंट

pankaj vaishnav

Publish: Sep 14, 2019 03:14 AM | Updated: Sep 14, 2019 03:14 AM

Udaipur

बीस लाख की ईनामी राशि दाव पर, 11 देशों के शातिर दौड़ा रहे हैं दिमागी घोड़े, प्रथम लेकसिटी इंटरनेशनल ओपन ग्रेंडमास्टर शतरंज प्रतियोगिता का आगाज

उदयपुर . चेस इन लेकसिटी की मेजबानी में बुद्धिबल सेवा संस्थान, ऑल राजपुताना शतरंज संघ, अखिल भारतीय शतरंज महासंघ, विश्व शतरंज महासंघ के तत्वावधान में प्रथम लेकसिटी इन्टरनेशनल ओपन ग्रेंडमास्टर शतरंज प्रतियोगिता न्यू भोपालपुरा में शुरू हुई। आयोजन सचिव विकास साहु ने बताया कि राजस्थान के इतिहास में पहली बार आयोजित हो रही इस प्रतियोगिता मे भारत के अलावा आर्मीनिया, बांग्लादेश, चिली, इजिप्ट, ईरान, नेपाल, रूस, सिंगापुर, श्रीलंका, स्लोवाकिया, अमेरिका, मालदीव के प्रतिभागी शामिल हुए है। प्रतियोगिता को 3 वर्गों में खेला जा रहा है। प्रथम वर्ग में 12 लाख रूपए, ब्लिट्ज व रेपिड वर्ग में 4-4 लाख की ईनामी राशि है। उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि संभागीय आयुक्त विकास भाले थे। विशिष्ट अतिथि शेखर साहू, उपाध्यक्ष ऑल इण्डिया चेस फेडरेशन थे।
चेस इन लेकसिटी के अध्यक्ष राजीव भारद्वाज, ऑल राजपुताना शतंरज संघ जोइन्ट सेकेटरी राजेन्द्र तेली, चेस इन लेकसिटी उपाध्यक्ष डॉ. ओम साहु, हिम्मत सिकलीगर, देवेन्द्र साहु, तुषार मेहता, विकास जोशी मौजूद थे।
आयोजन सचिव विकास साहु ने बताया कि पहले दिन लेकसिटी के 4 सहित 15 खिलाडिय़ों ने दमदार प्रदर्शन करते हुए उलटफेर किए। लेकसिटी के गौतम कटारिया ने रशिया के इंटरनेशनल मास्टर रेस्चेंकोव डेनिस से ड्रॉ, गोवा के मनदार प्रदीप ने बाग्ंलादेश के इंटरनेशनल मास्टर अबु सुफियान से ड्रॉ, लेकसिटी के भावेश ने यूएएस के ग्रेंडमास्टर जिटडिनोव रसेट से ड्रॉ, दिल्ली के साहिब सिंह ने महाराष्ट्र के प्रतिक पाटील से ड्रॉ, मध्यप्रदेश के साहिल ददवानी ने इजिप्ट के सौभ अमरौ से ड्रॉ, लेकसिटी के व्रशांक चौहान ने दिल्ली के आराध्य गर्व को हराया। इसी तरह से अन्य खिलाडिय़ों के परिणाम भी रौचक और चौंकाने वाले रहे।