स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उदयपुर में सांवलिया सेठ व भगवान जगदीश का हुआ अनूठा मिलन, गणगौर घाट पर जमी लहरिया की रंगत

Madhulika Singh

Publish: Aug 21, 2019 20:46 PM | Updated: Aug 21, 2019 20:46 PM

Udaipur

माहेश्वरी महिला सेवा समिति का लहरिया उत्सव, नौका विहार व भजन संध्या के आयोजन भी

उदयपुर. अच्छी बारिश की मनोकामना एवं झीलों के पानी से लबालब होने की कामना को लेकर माहेश्वरी महिला सेवा समिति की ओर से बुधवार को गणगौर घाट पर लहरिया उत्सव का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जगदीश मंदिर में प्रभु सांवलिया सेठ व जगदीश का मिलन हुआ तो कलश यात्रा, नौका विहार व भजन संध्या के आयोजन भी हुए।

दोपहर 1 बजे सांवलिया सेठ की शोभायात्रा भट्टियानी चौहटटा स्थित महालक्ष्मी मंदिर से रवाना हुुुुई। इसमें पारंपरिक परिधानों में सजी -धजी महिलाएं कलश लेकर चली । दोपहर 2 बजे जगदीश मंदिर में प्रभु सांवलिया सेठ व जगदीश का मिलन हुुुुआ। बाद में प्रभु को शोभायात्रा के रूप में गणगौर घाट ले जाया गया, शाम 4 बजे प्रभु को नौका विहार करवाया गया। इस अवसर पर भजन संध्या भी हुई।

मंडफिया से आए सांवल‍िया सेठ
मंडफिया से भगवान सांवल‍िया सेठ दोपहर 1 बजे भट्टियानी चौहट्टा में आए। इस दौरान उन्‍होंने भट्टमेवाड़ा समाज के लक्ष्मीनारायण में विश्राम क‍ि‍या।