स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

8 गांवों के 170 काश्तकार एक साथ ट्रेक्‍टर लेकर पहुंचे श्मशाम भूूमि पर, ये थी वजह

Madhulika Singh

Publish: Aug 21, 2019 19:44 PM | Updated: Aug 21, 2019 19:43 PM

Udaipur

एसडीओ,डिप्टी, नारकोटिस्क विभाग के अधिकारी रहे मौजूद

लूणदा. लूणदा क्षेत्र में नारकोटिक्स विभाग ने कार्रवाई करते हुए डोचा-चूरा को नष्ट किया। जानकारी के अनुसार, धाकड़ों के श्मशाम भूूमि पर अफीम काश्तकारों का डोडा चूरा तोल कर थ्रेसर की सहायता से उसका चूरा कर खड्डे में पानी मिलाकर नष्ट किया गया। अधिकारि‍यों ने बताया कि‍ 8 गांवों के 170 काश्तकारों का डोडा चूरा था जिसे नष्ट किया गया। इस दौरान अधिकारि‍यों द्वारा डोडे-चूरे का तौल किया गया जिसके बाद उसे पूूरी तरह से बोरों में बाहर निकाल कर चेक किया गया । उसके बाद उसे थ्रेसर की सहायता से पिसाई कर नष्ट किया गया। साथ ही विभाग की ओर से पूरी कार्रवाई की वीडियोग्राफी भी की गई।


ट्रैक्टरों व टेम्पों में ले-ले कर पहुंंचे काश्तकार

इस दौरान काश्तकार ट्रेक्टरों में भर-भर कर नष्ट करवाने के लिए पहुंचे। प्रात: 10 बजे से नष्ट करने का कार्य शुुरू हुआ जो शाम तक जारी रहा एवं अधिकारी व ग्रामीण भी मौके पर डटे रहे। अमरपुरा जागीर के 37,संग्रामपुरा के 37,केसरपुरा अ-30, केसरपुरा ब-22,गढपुरा 8, गोपा की भागल 11,नाहरपुरा 13, लूणदा 12 अफीम काश्तकारों के डोडा चूरा नष्ट किया।

यह अधिकारी रहे मौजूद

इस दौरान लाखन सिंह मीणा डिप्टी वल्लभनगर, उपखण्ड अधिकारी वल्लभनगर गोपाल परिहार, भरत मीणा आबाकारी निरीक्षक सलूम्बर,संदीप मीणा निरीक्षक नारकोटिक्स विभाग नीमच,कल्पना अस्थाना अधीक्षक नारकोटिक्स नीमच, पटवारी जितेन्द्र शर्मा, कानोड़ थानाधिकारी देवेन्द्र सिंह देवल मय जाब्ता सहित मौके पर उपस्थित रहे।