स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कोई पत्नी के 'संग तो कई पड़ौसी ठिकानों के लिए 'तंग

Sushil Kumar Singh Chauhan

Publish: Sep 20, 2019 06:00 AM | Updated: Sep 20, 2019 02:45 AM

Udaipur

nagar nigam udaipur नगर निगम चुनाव में वार्ड आरक्षण के बाद गोटी बिठाने में डटे दावेदार, भाजपा-कांग्रेस में चेहरा खोजने की कवायद शुरू

उदयपुर. nagar nigam udaipur नगर निगम चुनाव की लॉटरी प्रक्रिया के बाद पार्षद की दौड़ में शामिल दावेदार वर्तमान गणित के बीच नए समीकरण बिठाने में जुट गए हैं। कोई खुद की पत्नी को पार्षद का चुनाव लड़ाने के लिए आतुर है तो कई अपेक्षा के अनुरूप नहीं मिले लॉटरी परिणामों के बाद पड़ौस के वार्ड में खुद की दावेदारी को लेकर रूपरेखा बना रहा है। इधर, भाजपा और कांग्रेस जैसे राजनीतिक दलों ने वार्ड वार चेहरों की तलाश शुरू कर दी है। इधर, बड़े ख्वाब देख रहे कुछ नेता और युवा अब महापौर की कुर्सी को लेकर प्रस्तावित लॉटरी से उम्मीद लगाए हुए हैं, हालांकि उनके स्तर पर सीट को लेकर दावेदारी तेज कर दी गई है। नगर निगम के 70 वार्डों की बुधवार को निकाली गई लॉटरी के बाद वार्डों में दोनों ही राजनीतिक दलों में दावेदारों की गतिविधियां तेज हो गई हैं। हर दावेदार खुद को आगे रखने के लिए हर संभव जतन कर रहा है। बात भाजपा की करें तो कई पुराने चेहरे इस बार भी चुनाव में किस्मत आजमाने को आतुर हैं। पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी इस दौड़ में लगे हुए हैं। दूसरी ओर दो से अधिक दावेदारों वाले वार्ड में अभी से गठजोड़ के प्रयास तेज हो गए हैं। अगर, कांग्रेस की बात करें तो अब तक दावेदारों को लेकर बहुत ज्यादा उत्साह नहीं दिख रहा है। पुराने कांग्रेस पार्षद वाले वार्डों में कुछ चहलकदमी बनी हुई है।

मंडल व ब्लॉक अध्यक्षों के घर की नापी दूरी

लॉटरी के बाद दावेदारी करने वाले दोनों की राजनीतिक दलों के दावेदार मंडल व ब्लॉक अध्यक्षों के घर की दूरी नापने लगे हैं। कई दूरभाष के माध्यम से दावेदारी दिखा रहे हैं। भाजपा के छह ही मंडल अध्यक्षों के पास दावेदारों की सूची लंबी होती जा रही है। हालांकि, मंडल अध्यक्षों की ओर से दावेदारों को नई गाइड लाइन जारी होने की बात कही जा रही है। इसी तरह कांग्रेस में भी शहर कांग्रेस अध्यक्ष और ब्लॉक अध्यक्षों के घर भी दावेदारों की हलचल है।

कतार में अध्यक्ष खुद

बड़ी बात यह है एक ओर भाजपा के मंडल व कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष के पास दावेदारों की सिफारिशों का दौर तेज हैं, लेकिन खास चर्चा यह भी है कि बहुत से मंडल व ब्लॉक अध्यक्ष स्वयं भी पार्षद बनने को लालायित हैं। ऐसे में चेहरों का चयन पार्टी तय करेगी। nagar nigam udaipur कांग्रेस में तो प्रभारी मंत्री की बैठक में दावेदारों ने एड़ी से चोटी तक का जोर लगाने में कोई कसर नहीं रखी।

...आरक्षित हुए इन पार्षदों के वर्तमान वार्ड

- चन्द्रसिंह कोठारी, महापौर (भाजपा)

- पारस सिंघवी (भाजपा)

- मोहसिन खान, नेता प्रतिपक्ष (कांग्रेस)

- अरुण टांक (कांग्रेस)

- जगत नागदा (भाजपा)

- अजय पोरवाल (कांग्रेस)

- अतुल चंडालिया (भाजपा)

- रमेश चंदेल (भाजपा)

- रोबिन सिंह (भाजपा)

- राजेश वैरागी (भाजपा)

- विजय प्रजापत (भाजपा)

- देवेन्द्र जावलिया (भाजपा)

- लवदेव बागड़ी (भाजपा)

- राशिद खान (कांग्रेस) nagar nigam udaipur

- सिद्धार्थ शर्मा - नमिता टांक