स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नवोदि‍तों की रंगारंग प्रस्तुतियों ने बांधा समां कवि सम्मेलन आज

pramod soni

Publish: Sep 14, 2019 11:07 AM | Updated: Sep 14, 2019 12:29 PM

Udaipur

नवोदीतों की रंगारंग प्रस्तुतियों ने बांधा समां

कवि सम्मेलन आज

प्र्र्रमाेद साेनी/ उदयपुर. नगर निगम के सात दिवसीय रजत जयंती वर्ष समारोह के दूसरे दिन शुक्रवार को स्थानीय कलाकारों ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम की शुरुआत भवई नृत्य से हुई।प्रारम्भ में अतिथि हीरालाल कटारिया, राजेंद्र बोर्दिया, ललित मेनारिया, देवनारायण धायभाई, दिनेश धायभाई, नंदलाल वैद, गोपाल कुंवर ने दीप प्रज्वलित किया। भवई नृत्य की प्रस्तुति के बाद विदिशा बोल्या ने सोना कितना सोना है...पर नृत्य किया। बाल गायक प्रथमेश नीलेश सुर्वे ने मोहे रंग दे लाल...., खुशी भानावत ने गली में आज चांद निकला..., गर्वित बाफ ना ने कान्हा रे नन्द नंदन..., हर्षिता एंड ग्रुप ने पायल की झंकार नृत्य व गीतों ने दर्शकों की तालियां बटोरी। मेले में खरीदारों की खूब भीड़ रही। सुबह हुई बारिश से कई जगह कीचड़ होने से भी मेलार्थी व दर्शकों को परेशानी हुई। मौसम में हल्की गुलाबी ठंडक ने मेले में बिकने वाले गर्म व्यंजनों के खाने का लुत्फ लिया है। स्थानीय प्रतिभाओं को महापौर ने शॉल, मोमेंटो एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।आज कवि सम्मेलनशनिवार को कवि सम्मेलन होगा जिसमें दिल्ली के हास्य रस कवि अरुण जैमिनी, वीर रस कवि व गीतकार दिनेश रघुवंशी, कानपुर के कवि सुरेश अवस्थी, आगरा के शृंगार कवयित्री डॉ.रुचि चतुर्वेदी, उदयपुर के अजातशत्रु, हास्य व्यंग्य कवि गोविंद राठी, वीर रस कवि गौरव चौहान, भीलवाड़ा के दीपक पारिख एवं उदयपुर के गौरव गोलछा वाणी आदि रचना पाठ करेंगे।