स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पढ़ाई के साथ ऐसे हुनर ने सम्मान को किया मजबूर

Sushil Kumar Singh Chauhan

Publish: Sep 17, 2019 06:00 AM | Updated: Sep 17, 2019 03:21 AM

Udaipur

MLSU udaipur स्कील डवलपमेंट में चाइना व कोरिया भारत से आगे

उदयपुर. MLSU udaipur मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय के आर्टस कॉलेज में संचालित रेडिमेड गारमेंट के विद्यार्थियों ने प्रतियोगिताओं के माध्यम से ऐसा हुनर पेश किया कि निर्णायकों को मजबूर होकर उन्हें सम्मान के लिए चुनना पड़ा। विशेष समारोह पर इन विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया।
आट्र्स कॉलेज के सभागार में सोमवार को लायंस क्लब एलीट, मेवाड़ गौरव एवं रेडिमेड गारमेंट के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित मणिकर्णिका.2019 के समापन समारोह के मुख्य अतिथि विवि कुलपति प्रो. नरेंद्र सिंह राठौड़ ने कहा कि 21वीं सदी कौशल आधारित शिक्षा की है। चाइना और कोरिया में कौशल विकास का स्तर 40 प्रतिशत है, जबकि भारत में यह 4 प्रतिशत है। काम छोटा से छोटा हो, लेकिन अच्छे से होना चाहिए। छात्र-छात्राएं प्रतिभा के बल से न केवल स्वरोजगार को आगे बढ़ाते है। दूसरों को भी रोजगार देते है। विवि में इस प्रकार के कोर्स के साथ प्रशिक्षण देने की जरूरत है। अध्यक्षता करते हुए अधिष्ठाता प्रो. साधना कोठारी ने कहा कि कौशल शिक्षा के लिए विश्वविद्यालय स्तर पर महिलाओं के लिए भी प्रशिक्षण कार्यक्रम होने चाहिए। प्रो. दिगविजय भटनागर ने विभाग बताया कि 5 दिनों में 40 छात्राओं ने हैंडमेड ज्वैलरी, ग्रुमिंग, फेब्रिक एनवलप मैकिंग तथा हैंडीक्राफ्ट प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। सुखाडिय़ा विवि के कुलपति प्रो. एनएस राठौड़, लायंस क्लब एलीट अध्यक्ष नितिन शुक्ला और लायंस क्लब मेवाड़ गौरव की अध्यक्ष कल्पना शर्मा ने विजेताओं को पुरस्कृत किया। संचालन डॉ. डोली मोगरा व डॉ. मनीष श्रीमाली ने किया। MLSU udaipur आभार डॉ. गरिमा मिश्रा ने जताया।

ये रहे विजेता
ज्वैलरी मेकिंग में योगिता, मदिहा, एनवलप मेकिंग में शाहिना बानू, प्रिया सुथार, हैंडीक्राफ्ट में पवन खटीक, कृष्णा सुथार, ग्रुमिंग प्रतियोगिता में प्रिया सुथार, मनीषा खटीक ने क्रमश: पहला, दूसरा व तीसरा स्थान बनाया।