स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उदयपुर की मार्बल प्रोसेसर्स समिति ने चुना अपना नेतृत्व

Sushil Kumar Singh Chauhan

Publish: Sep 17, 2019 06:00 AM | Updated: Sep 17, 2019 03:04 AM

Udaipur

marble businessman चौधरी अध्यक्ष व पटेल निर्विरोध महासचिव

उदयपुर. marble businessman उदयपुर मार्बल प्रोसेसर्स समिति की ओर से सोमवार को हुए वर्ष 2019-20 के कार्यकारिणी चुनाव के तहत बन्नाराम चौधरी को अध्यक्ष एवं हितेश पटेल को निर्विरोध महासचिव चुने गए।
इससे पहले उदयपुर मार्बल प्रोसेसर्स समिति की वार्षिक साधारण सभा में बन्ना राम चौधरी की कार्यकुशलता को एवं मार्बल व्यापार के विस्तार में दिए गए सहयोग को देखते हुए सर्वसम्मति से अध्यक्ष पद पर निर्विरोध चुना गया एवं साथ ही अन्य पदों को लेकर पदाधिकारियों को चुना गया। चुनाव अधिकारी एवं उदयपुर चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स के पूर्व अध्यक्ष महेन्द्र कुमार टाया ने बताया कि समिति की नव गठित कार्यकारिणी में अध्यक्ष और महासचिव के अलावा कोषाध्यक्ष डॉ. अनिल कुमार कटारिया, संयुक्त सचिव रेवत सिंह राठौड़, कार्यकारिणी सदस्य कैलाश राजपुरोहित, अनिल ग्लूंडिया, विनोद कुमार रांदेड़, मंगलेश शाह निर्विरोध निर्वाचित हुए। इससे पहले उदयपुर मार्बल प्रोसेसर्स समिति की वार्षिक साधारण सभा बैठक में कपिल सुराणा की ओर से वर्ष २०१८.१९ में समिति की ओर से किए गए मुख्य कार्यो का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया गया।
चुनाव सम्पन्न होने के बाद बन्ना राम चौधरी ने अध्यक्षीय संबोधन में कहा की मार्बल आम आदमी की आवश्यकता बन चुका है, लेकिन वर्तमान समय मार्बल का सबसे खराब दौर चल रहा है। मार्बल व्यवसाय मंदी के दौर से गुजर रहा है। आए दिन कोई नई समस्या आ रही है। कभी मगबपेम ड्यूटी में बदलाव, आम आदमी के जरूरत की वस्तु मार्बल को विलासिता की वस्तु घोषित कर की उच्च श्रेणी में शामिल कर दिया गया था। सभी के प्रयास से इसको हम वर्तमान में 28: से 18: तक लाने में कामयाब हुए हैं। marble businessman कार्यक्रम में समिति के मांगीलाल लुणावत, नारायण पटेल, शंकर सिंह गूलर, फाउंडर प्रेसिडेंट दिलीप तलेसरा, पूर्व अध्यक्ष प्रभाष कुमार राजगढिय़ा, शरत कटारिया, प्रदीप गांधी, प्रदीप बाबेल, आनंद पटवा, परमेश्वर अग्रवाल, मुकेश मोदी, पंकज गंगावत एवं अन्य मौजूद थे।