स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अंतिम तिथि बीतने के बाद बांटे बिजली बिल

Sushil Kumar Singh Chauhan

Publish: Nov 18, 2019 06:00 AM | Updated: Nov 18, 2019 00:55 AM

Udaipur

electric bill पैनाल्टी को लेकर उलझन में ग्रामीण उपभोक्ता

उदयपुर/ बनोड़ा. electric bill अंतिम तिथि बीतने के बाद अजमेर विद्युत वितरण निगम प्रतिनिधि की ओर से उपभोक्ताओं को बांटे गए बिजली बिल का मामला तूल पकड़ रहा है। निगम की लापरवाही के बाद उपभोक्ताओं के सामने पैनाल्टी राशि जमा कराने का संकट गहरा रहा है। उपभोक्ताओं का आरोप है कि उनकी ओर से देरी नहीं करने के बावजूद उन्हें पैनाल्टी राशि अदा करनी होगी। बता दें कि निगम के जिम्मेदारों की ओर से बिजली के बिल शनिवार को बांटे गए, जबकि बिल जमा कराने की अंतिम तिथि 14 नवम्बर अंकित है। पूर्व सरपंच वालचंद पटेल, दिनेश बायती ने बताया कि निगम की ओर से बिजली बिल देरी से बांटने की समस्या कोई नई नहीं है। पहले भी उपभोक्ता इस तरह की समस्याओं से आर्थिक तंगी झेल चुके हैं। खास तो यह है कि शिकायतों के बावजूद निगम स्तर पर समस्या का कोई हल नहीं निकाला गया। केप्शन: बनोड़ा में बिल बांटता निगम कार्मिक।


आखिरकार एवीवीएनएल ने ली सुध, उपभोक्ता के घर लगा बिजली मीटर
उदयपुर/ बड़ावली. बगैर बिजली मीटर लगाए उपभोक्ता के घर भिजवाए जा रहे बिजली बिल के मामले में अजमेर विद्युत वितरण प्रबंधन ने आखिरकार उपभोक्ता की सुध ली और ठगी का शिकार होने से बचाने की पहल की। सराड़ा उपखण्ड की बड़ावली ग्राम पंचायत निवासी मनोहरसिंह के घर पर बिजली कनेक्शन के नाम पर रखवाए गए बिजली मीटर के नाम से आ रहे बिल और ठगी के राजस्थान पत्रिका में उठाए गए मामले के बाद निगम प्रबंधन ने उपभोक्ता की सुध ली। कार्य में ढिलाई बरतने वाले कर्मचारी के खिलाफ गंभीरता दिखाते हुए निगम ने उपभोक्ता के घर रखवाए गए बिजली मीटर को अस्तित्व में लाने के प्रयास किए। उपभोक्ता के घर पर विद्युत कनेक्शन की कार्रवाई भी पूरी कराई। बता दें कि सात नवम्बर के अंक में राजस्थान पत्रिका ने 'कनेक्शन हुआ नहीं, घर पर रखे मीटर का बिजली बिलÓ शीर्षक से समाचार प्रकाशित कर एवीवीएनएल के जिम्मेदारों का ध्यान खामियों की ओर आकर्षित किया था। electric bill इसके बाद निगम के ओहदेदार हरकत में आए और उपभोक्ता को न्याय मिला।

[MORE_ADVERTISE1]