स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आठ केलूपोश मकान ढहे

Surendra Singh Rao

Publish: Sep 15, 2019 02:36 AM | Updated: Sep 15, 2019 02:36 AM

Udaipur

( rain continue from 36 hours rain)

मौका मुआयना कर पटवारी को सूचना दी


उदयपुर. मूंगाणा. ग्राम पंचायत क्षेत्र में ८ कच्चे केलूपोश मकान ढह गए। बोरदा राजस्व गांव में बाबरिया पुत्र कमला मीणा, हिरिया पुत्र ऊंकार मीणा, दिनेश पुत्र मानिया, रमेश पुत्र करण मीणा, देविया पुत्र कालिया मीणा, रामा पुत्र भाणिया मीणा, अमरा पुत्र गौतमा, टांडा निवासी खूबीलाल लबाना के कच्चे मकान ढह गए। गनीमत रही कि कोई जनहानि नहीं हुई। गौरतलब है कि 36 घंटों से मूसलाधार बरसात हो रही है, जिससे जन जीवन काफ ी प्रभावित हो रहा है। मूंगाणा सरपंच हरिशचन्द्र मीणा ने बताया कि ग्राम पंचायत क्षेत्र में ८ केलूपोश मकान धराशायी हो गए है। इन परिवार को रहने के लिए दूसरा क ोई आशियाना नहीं है। मौका मुआयना कर पटवारी को सूचना दी है।
कोटा पुल के उपर से बहा पानी, सम्पर्क कटा

गींगला पसं.मेवल क्षेत्र में शुक्रवार रात से ही रिमझिम बारिश शुरू हुई, जो शनिवार दिनभर बनी रही। जिससे चहुंओर पानी ही पानी हो गया है। बारिश से गोमती नदी में तेज आवक होने से ईडाणा- धावड़ी मार्ग पर कोटा पुल के ऊपर से इस सीजन में पहली बार पानी बहा। पुल के ऊपर से पानी बहने से दोनों ओर का सम्पर्क कट गया। इधर, अन्य जलाशयों में भी पानी की आवक हुई। झामरी, सिरोली नदी में भी पानी बढ़ा। शनिवार शाम को खरका नदी में तेज पानी आने पर ग्रामीण नजारा देखने पहुंचे। जयसमंद का जलस्तर 20 फीट से ऊपर होने के बाद रूण पेटे में पानी समाने लगा है और रूण पेटे की फसलें भी डूब कर गल गई है।