स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ब्रिटिश उच्चायुक्त बोले उदयपुर शानदार है, इसकी रौनक देखते ही बनती है...

bhuvanesh pandya

Publish: Aug 18, 2019 20:00 PM | Updated: Aug 18, 2019 20:00 PM

Udaipur

- झीलों के विकास के लिए दिए सुझाव - सुबह से शाम तक रहे लेकसिटी में

भुवनेश पण्ड्या
उदयपुर. ब्रिटिश उच्चायुक्त डोमिनिक एंथोनी जेरार्ड एस्क्विथ केसीएमजी मंगलवार को दिल्ली से उदयपुर पहुंचे। वे सुबह 9.10 बजे उदयपुर पहुंचे व शाम 7.15 बजे के विमान से दिल्ली लौट गए। उन्होंने यहा पर्यटन विभाग की उपनिदेशक शिखा सक्सेना से मुलाकात की। इसके बाद उदयपुर शहर का भी दौरा किया। उच्चायुक्त बोले कि उदयपुर का लैंडस्केप शानदार है। यहाँ की गलियों की रौनक देखते ही बनती है। यहां की सबसे बड़ी बात यहाँ पैदल भी आराम से घूमा जा सकता है। यहाँ की सभी झीले खूबसूरत और निराली हैं। उन्होंने सुझाव दिया कि झीलों का विकास ऐसा होना चाहिए कि इसके किनारे बैठकर रिलेक्स हुआ जा सके, चाय व कॉफी पी जा सके।

----

उन्होंने कहा कि यहां पब होने चाहिए, राजस्थान में जयपुर और उदयपुर के पर्यटन को विशेष महत्वपूर्ण बताया। सक्सेना ने उन्हें उदयपुर पर्यटन विभाग की ट्रेवल बुक दिखाई, जिसे उन्हें बेहतर तरीके से डिजाइन की गई और चित्रकारी को बेहद खूबसूरत बताया। उच्चायुक्त ने राजस्थान पर्यटन विभाग की मार्केटिंग की भी तारीफ की। उच्चायुक्त डोमिनिक एंथोनी जेरार्ड एस्क्विथ केसीएमजी इससे पहले ब्रिटिश कैरियर राजनयिक, इराक, मिस्र और लीबिया के पूर्व राजदूत रह चुके हैं। वह वर्तमान में भारतीय में ब्रिटिश उच्चायुक्त हैं।