स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

70 वर्ष की महिला को महीनों से थी पेट में तकलीफ, जब ऑपरेशन किया तो डॉक्‍टर भी रह गए दंग

bhuvanesh pandya

Publish: Sep 20, 2019 11:01 AM | Updated: Sep 20, 2019 12:10 PM

Udaipur

- तीन घंटे ऑपरेशन कर निकाले

- आरएनटी मेडिकल कॉलेज

- पथरी का ऑपरेशन

भुवनेश पण्ड्या

उदयपुर. आरएनटी मेडिकल कॉलेज सम्बद्ध पन्नाधाय राजकीय महिला चिकित्सालय में 70 वर्षीय महिला के मूत्राशय की थैली में से 243 पथरियाँ निकाली गई। जनरल सर्जन डॉक्टर राजवीर सिंह ने बताया कि ऑपरेशन वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ प्रकाश जैन, वरिष्ठ शल्य चिकित्सक डॉ. दीपक सेठी एवं वरिष्ठ एनेस्थेटिस्ट डॉ. देवेन्द्र वर्मा के नेतृत्व में किया गया। बांसवाड़ा निवासी 70 वर्षीय महिला के कई महीनों से गर्भाशय की परेशानी, पेट दर्द एवं पेशाब की तकलीफ थी। सिंह ने बताया कि महिला ने पन्नाधाय राजकीय महिला चिकित्सालय में जाँच में यूटेरस प्रोलेप्स के साथ अण्डाशय में दो बड़ी गाँठ एवं मूत्र की थैली में पथरियाँ मिली।

----

अधिक उम्र होने के साथ ही साथ हृदय की बीमारी एवं अन्य बीमारियाँ होने की वजह से ऑपरेशन में खतरा था, लेकिन बीमारी की वजह से होने वाली परेशानी को देखते हुए ऑपरेशन का निर्णय किया गया। डॉ. प्रकाश जैन ने बताया कि गर्भाशय एवं अण्डाशय की गाँठ दोनों के ऑपरेशन को बिना चीरे वाले तरीके से करने का निर्णय लिया गया। डॉ दीपक सेठी ने बताया कि मूत्र की थैली की पथरी भी बिना चीरे के तरीके से योनि मार्ग से ही निकालने का निर्णय लिया गया। मूत्र की थैली से 243 पथरियाँ निकाली गई। डॉ. सेठी ने बताया कि पथरियाँ 4 से 14 एमएम के आकार की थी। तीन घंटों के इस ऑपरेशन में डॉ अर्चना बामनिया, कमलनयन शर्मा, डा. रवीन्द्रसिंह, डॉ शरद गुप्ता, डॉ दिनेश डिडवानियां, डॉ संगीता व डॉ मोििनका ने सहयोग किया।