स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

#MeToo के आरोपों को अनु मलिक ने नकारा, कहा- ‘आरोप बर्दाश्त नहीं, हर जांच के लिए तैयार हूं’

Vivhav Shukla

Publish: Nov 22, 2019 15:54 PM | Updated: Nov 22, 2019 15:54 PM

TV News

#MeToo के आरोप मेें फसे अनु मलिक को इंडियन आइडल 11 से बाहर कर दिया गया है।

नई दिल्ली। अनु मलिक(Music composer Anu Malik) अपने गानों के साथ-साथ अपनी शायरी के चलते हमेशा चर्चा में बने रहते हैं। लेकिन इस बार वह किसी और वजह से खबरों में छाए हुए हैं। दरअसल, इस वक्त अनु इंडियन आइडल 11 के जज बने हैं लेकिन उनकी जज की कुर्सी छिनने वाली है। #MeToo मूवमेंट के तहत यौन शोषण के आरोप लगाए थे। जिसके बाद सोनी चैनल ने उन्हें अपने शो सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल 11(singing reality show Indian Idol) से बाहर कर दिया।

[MORE_ADVERTISE1]

ये है मामला

अनु मलिक पर प्लेबैक सिंगर सोना मोहपात्रा और नेहा भसीन(singer Neha Bhasin) के अलावा कई अन्य महिलाओं ने उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। जिसके बाद से ही उन्हें इंडियन आइडल 11 से बाहर करने की मांग हो रही थी। लेकिन चैनल शो(Sony Entertainment) की TRP के चलते उन्हें शो से बाहर नहीं कर रहा था। जिसके बाद सोना मोहपात्रा ने स्मृति ईरानी से अनु की शिकायत की थी। जिसके बाद ही उन पर एक्शन लेने की बात कही जा रही है।

ये भी पढ़ें- स्मृति ईरानी से हुई अनु मलिक की शिकायत,शाम होते ही इंडियन आइडल शो से किया बाहर!

[MORE_ADVERTISE2]

अनु ने कहा आरोप बर्दाश्त नहीं

वहीं इस मामले पर अब अनु मलिक ने भी अपनी चुप्पी तोड़ी है। अनु के मुताबिक उन्हें शो से निकाला नहीं गया बल्कि वह अपनी मर्जी से तीन हफ्तों के ब्रेक पर हैं।अनु का कहना है कि लोग सोशल मीडिया पर लगातार उनके खिलाफ यूजर गुस्से का इजहार कर रहे हैं जो गलत हैं। वो इसके लिए अदालत भी जाएगें। अनु मलिक ने बताया कि उन्हेंने अपना पक्ष म्यूजिक कंपोजर एसोसिएशन को लिखकर भेज दिया है। साथ ही उन्होंने रिक्वेस्ट की है कि उनका पक्ष सिंगर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया को भेज दिया जाए। अगर उनके पास कोई सबूत है तो दिखाएं। मैं जांच का सामना करने को तैयार हूं, लेकिन मेरे खिलाफ चल रहा अभियान और दुर्भावना से लगाए जा रहे आरोप बर्दाश्त नहीं हैं। इसने मुझे कहीं का नहीं छोड़ा है। मैं अब इन आरोपों से अपने नाम को मुक्त कराना चाहता हूं।

[MORE_ADVERTISE3]