स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूको बैंक ने किया खादी समिति कार्यालय को सीज, एक करोड़ से अधिक का है कर्जा बकाया

Pawan Kumar Sharma

Publish: Dec 11, 2019 11:51 AM | Updated: Dec 11, 2019 11:51 AM

Tonk

लगातार घाटे में चल रही जिला खादी ग्रामोदय समिति कार्यालय के मंगलवार को यूको बैंक ने ऋण नहीं चुकाने पर ताले लगाकर सीज कर दिया।

टोंक. लगातार घाटे में चल रही जिला खादी ग्रामोदय समिति कार्यालय के मंगलवार को यूको बैंक ने ऋण नहीं चुकाने पर ताले लगाकर सीज कर दिया। बैंक ने समिति के सभी कक्षों दरवाजों पर करीब साठ से अधिक ताले लगाकर सीज किया है। इस दौरान वहां विभिन्न मांगों के लिए आंदोलन कर रहे समिति कार्मिक भी बाहर निकल गए।

अब ये समिति कार्यालय बैंक के अधीन होगा। बैंक ने ऋण चुकाने के लिए समिति को एक महीने का नोटिस दिया है। ऋण नहीं चुकाने पर बैंक की ओर से तय समय के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। ये कार्रवाई मुख्य प्रबंधक अंचल कार्यालय अजमेर यूको बैंक बालकृष्ण शर्मा के नेतृत्व में की गई।

मुख्य प्रबंधक बालकृष्ण शर्मा ने बताया कि समिति ने बैंक से करीब एक करोड़ से ऋण पर लिया था। समिति की ओर से ये ऋण नहीं चुकाया गया। इसके लिए समिति को कई नोटिस जारी किए गए, लेकिन ऋण की अदायगी नहीं की गई। ऐसे में बैंक की ओर से समिति कार्यालय को सीज कर दिया गया।

उन्होंने बताया कि नोटिस देकर तय समय पर ऋण चुकाने को कहा है। इसके बाद भी ऋण नहीं चुकाया गया तो बैंक की ओर से नीलामी की कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले बैंक ने समिति की जयपुर स्थित दो दुकानों को भी पहले सीज कर दिया था। इसके बाद भी समिति ने ऋण को नहीं चुकाया।

गौरलतब है कि समिति के पास प्रदेश के कई जिलों में करीब 8 दुकानें हैं, जिनमें टोंक में तैयार होने वाले खादी के उत्पाद विक्रय किए जाते हैं। टोंक में पिछले कई सालों से मंदी का दौर चल रहा है। ऐसे में गत दिनों से समिति के कार्मिक मानदेय समेत अन्य मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे थे।


गांधी का जयंती चल रहा है
इधर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 150 जयंती वर्ष मनाई जा रही है। इसमें जिला प्रशासन की ओर से विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। खासतौर पर खादी के प्रति भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है। वहीं बैंक की ओर से खादी ग्रामोदय समिति कार्यालय पर लगाए गए ताले से समिति की लापरवाही सामने आ रही है।

गौरतलब है कि प्रदेशभर में चल रही खादी ग्रामोदय समिति बेहतर तरीके से संचालित हो रही है। वे कम मुनाफे के बावजूद लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रही है। वहीं एक समय में नामीगरामी टोंक की ग्रामोदय समिति आज दयनीय हालात से गुजर रही है। जबकि टोंक समिति के कालीन, कपड़े, चद्दर, पर्श व चमड़े के जूते तक मशहूर थे और लोग काफी पसंद किया करते थे, लेकिन एक दशक से ही इसके हालात खराब होते चले गए।


नोटिस चस्पा किया
बैंक ने कार्यालय के बाहर नोटिस चस्पा किया है। इसमें सम्पति पर कब्जा बैंक का बताया गया है। बैंक ने सिक्यूरिटाइजेशन एक्ट की धारा 13(4) नियम 8 (1) के तहत ये कार्रवाई कर कब्जा किया है।


[MORE_ADVERTISE1]