स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राज्य कोष के लिए कार्मिकों ने मांगी भीख

Jalaluddin Khan

Publish: Dec 10, 2019 15:25 PM | Updated: Dec 10, 2019 15:25 PM

Tonk

शहर में किया प्रदर्शन
मनरेगा कार्मिकों का धरना व अनशन
टोंक. नियमित समेत विभिन्न मांगों को लेकर महानरेगा संविदा कार्मिक संघ का धरना व अनशन रामलीला मैदान में मंगलवार को भी जारी रहा। राज्य सरकार के कोष में राशि भेजने के लिए कार्मिकों ने शहर में भीख मांगी।

मनरेगा कार्मिक रैली के रूप में हाथों में भीख देने की तख्तियां लेकर निकले। वे घंटाघर, सुभाष बाजार, काफला बाजार, बड़ा कुआं होते हुए विभिन्न बाजार व इलाकों से गुजरते हुए धरना स्थल पहुंचे।

उन्होंने राज्य सरकार के खिलाफ नारे लगाए। साथ ही कार्मिकों की मांग को लेकर राज्य सरकार के लिए भिक्षावृत्ति की।

संघ के जिलाध्यक्ष इमरान खान, महासचिव आदर्श जैन तथा महामंत्री महावीर बाहेती ने बताया कि वर्ष 2013 में निकाली गई कनिष्ठ लिपिक की भर्ती में ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज विभाग में संविदा के आधार पर कार्य कर रहे कार्मिकों को बोनस अंक देने का प्रावधान किया था, लेकिन इस की प्रक्रिया बाद में रोक दी गई।

इसे प्रक्रिया को राज्य सरकार की ओर से रोक हटने के बाद भी शुरू नहीं किया गया। ऐसे में धरना देकर सरकार के सामने मांग रखी गई।

इमरान खान, सेवाराम, रमेश गुर्जर, सत्यनारायण, भरत चौधरी, राधेश्याम, लालचंद, गजानंद, बद्रीलाल, संजय, गिरधर गोपाल, बारां, भंवरसिंह, सुरेशचंद, नरेश खटीक अनशन पर बैठे हैं।

इस दौरान प्रदेशाध्यक्ष अशोककुमार वैष्णव, पाली जिलाध्यक्ष मोहम्मद असलम, सवाईमाधोपुर जिलाध्यक्ष ज्ञानचंद, बूंदी जिलाध्यक्ष सुधाकर जैन तथा कोटा जिलाध्यक्ष संतोषकुमार समेत प्रदेशभर से मनरेगा कार्मिक मौजूद थे।

[MORE_ADVERTISE1]