स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

परिवहन विभाग मौन, बिना नम्बरों के दौड़ रहे बजरी से भरे वाहन

Pawan Kumar Sharma

Publish: Dec 08, 2019 13:28 PM | Updated: Dec 08, 2019 13:28 PM

Tonk

परिवहन विभाग की अनदेखी के कारण नियमों को धता बता बजरी परिवहन में लगे सैंकडों वाहन बिना नम्बर लिखे तेज गति से सडक़ों पर सरपट दौड रहे है।

डिग्गी. सर्वोच्च न्यायालय द्वारा रोक के बावजूद क्षेत्र में दिन-रात दौड़ते बजरी के वाहनों पर लगाम कसने के लिए उपखण्ड अधिकारी डॉ. राकेश कुमार मीणा के निर्देशों पर डिग्गी मोड़ व कलमण्डा मार्ग पर नाके स्थापित कर कार्रवाई करने का कार्य किया जा रहा है, लेकिन एसआइटी की फोरी कार्रवाई करते हुए एक से दो वाहनों को जब्त कर कार्य की इतिश्री की जा रही है।

वहीं शाम गहराते ही क्षेत्र में बजरी परिवहन करने वाले वाहनों की कतार लग जाती है। इन वाहनों के नम्बर प्लेट पर कोई नम्बर अंकित नहीं है तथा जिनके नम्बर लिखे हुए है उनको मिटाया हुआ है। बिना नम्बरों के दौड़ रहे ऐसे वाहनों पर परिवहन विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है तथा इनकी तेज गति भी लावा-डिग्गी मार्ग पर हादसों को न्योता दे रही है। बजरी के इस परिवहन में ट्रैक्टर-ट्रॉलियों की संख्या व गति भी कम नहीं है।

एक डंपर व एक ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त:-
एसआइटी में शामिल नायब तहसीलदार प्रहलाद सिंह की टीम ने शुक्रवार रात को बजरी का अवैध दोहन कर ले जाने पर जयपुर रोड से एक डम्पर को तथा धोली से कलमण्डा मार्ग पर एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को जब्त करते हुए डंपर चालक जयपुर निवासी बाबूलाल मीणा व ट्रैक्टर चालक टोरडी निवासी काना कहार को डिग्गी पुलिस को सुपुर्द किया।


बजरी भरे ट्रैक्टर मारी टक्कर, दंपती घायल
पीपलू (रा.क.). तहसील के डोडवाडी में बजरी भरकर जा रहे एक ट्रैक्टर चालक ने मोटर साइकिल सवार दंपती को टक्कर मार दी। जानकारी अनुसार डोडवाडी निवासी छोटू गुर्जर अपनी पत्नी ममता गुर्जर के साथ मोटर साइकिल पर खेत से घर की ओर से घर लौट रहा था। इसी दौरान पीछे से ट्रैक्टर चालक ने मोटर साइकिल के टक्कर मार दी।

जिससे दम्पती गंभीर रूप से घायल हो गई, जिन्हें उपचार के लिए टोंक के चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। इधर, घटना के बादट्रैक्टर चालक मौके से फरार हो गया। घटना पर गुस्साए ग्रामीणों ने रास्ता जाम करते हुए यहां से गुजर रहे बजरी से भरे ट्रैक्टरों को रोक लिया।

[MORE_ADVERTISE1]