स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कार्यकाल बढ़ाने एवं बकाया भुगतान दिलवाने की मांग को लेकर प्रधान को सौंपा ज्ञापन

Jalaluddin Khan

Publish: Sep 22, 2019 14:57 PM | Updated: Sep 22, 2019 14:57 PM

Tonk

ग्राम पंचायत सहायकों एवं विद्यार्थी मित्रों ने सौंपा ज्ञापन पंचात समिति प्रधान चंद्रकला गुर्जर को ज्ञापन सौंपा है।

निवाई. पंचायत समिति में ग्राम पंचायत सहायक एवं राजस्थान विद्यार्थी मित्र संघ के तत्वाधान में ब्लॉक अध्यक्ष देवालाल गुर्जर के नेतृत्व में विद्यार्थी मित्र एवं ग्राम पंचायत सहायकों का कार्यकाल बढ़ाने एवं बकाया भुगतान दिलवाने की मांग को लेकर पंचात समिति प्रधान चंद्रकला गुर्जर को ज्ञापन सौंपा है।

ज्ञापन में बताया की मुख्य कार्यकारी अधिकारी नवनीत कुमार द्वारा ग्राम पंचायत सहायकों का कार्यकाल बढ़ाने एवं भुगतान करने के लिए विकास अधिकारियों को आदेश जारी कर दिया गया है। जिसके लिए उन्होंने प्रधान चंद्रकला गुर्जर से शीघ्र ही कार्यकाल बढ़ाने एवं भुगतान करने के लिए विकास अधिकारी द्वारा निर्देश जारी करवाने की मांग की है। ज्ञापन देने वालों में सत्यनारायण मीणा, भंवरलाल, शिवजीलाल गुर्जर, अजयसिंह राजावत, कुलदीप खंगार, बनवारीलाल बैरवा, अनिल पंचोली, गिर्राज चौधरी, लोकेश वर्मा, मीना कुमावत, योगेश कुमार मीणा, लखन मीणा एवं रामअवतार जाट सहित कई ग्राम पंचायत सहायक एवं विद्यार्थी मित्र मौजूद थे।


दो दिन तक सडक़ों पर बेहाल घूमती रही मासूम
टोंक. बहीर क्षेत्र की एक मासूम दो दिनों तक शहर में घूमती रही। जहां जगह मिली वहां सो गईतथा जिसने जो दिया वह खा लिया। शुक्रवार रात मेहंदीबाग क्षेत्र में मदद ही गुहार कर रही थी। लोगों की सूचना के बाद मौके पर पहुंची कोतवाली थाना पुलिस ने उससे जानकारी जुटाईऔर सआदत अस्पताल के सखीवन स्टॉप सेंटर के सुपुर्दकर दिया।

तब बालिका इस सेंटर की देखरेख में रह रही है। बहीर निवासी पांच साल की ये बालिका हाजरा है। उसके पिता शेर मोहम्मद की कुछ सालों पहले मौत हो गई। इसके बाद मां रेहाना ने दूसरी सादी कर ली। ऐसे में हाजरा अपने नाना-नानी के पास रही है। दो दिन पहले किसी बात से रूठ कर हाजरा घर से निकल गई।

हालांकि उसने घर से भगा देनी की बात कही। ऐसे में वह शहर के विभिन्न इलाकों में जाती और जो मिलता उसे खा लेती थी। इधर, सेंटर प्रभारी भावना सक्सेना ने बताया कि बालिका हाजरा की देखरेख समय-समय पर की जा रही है। उसे बाल कल्याण समिति को सौंपा जाएगा।