स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अलीगढ़ में क्षमावाणी पर्व व कलशाभिषेक

Mohan Lal Kumawat

Publish: Sep 16, 2019 10:45 AM | Updated: Sep 16, 2019 10:45 AM

Tonk

अलीगढ़ में क्षमावाणी पर्व पर रविवार को कलशाभिषेक किया गया। इससे पूर्व चौबीस भगवान की पूजा की गई। मन्दिर से नसियां तक जुलूस भी निकाला गया। भक्तामर मण्डल विधान का आयोजन किया गया। इसके बाद एक-दूसरे के घर जाकर साल भर में हुई गलतियों की क्षमा मांगी गई।

अलीगढ़. श्री आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर व नसियां अलीगढ़ में क्षमावाणी पर्व Apology Festival in Aligarh पर रविवार को कलशाभिषेक Kalashabhishek किया गया। इससे पूर्व चौबीस भगवान की पूजा Twenty four god worship की गई।

read more : क्षमावाणी पर्व में उमड़े श्रद्धालु: सामूहिक कलशाभिषेक समारोह

मन्दिर से नसियां तक जुलूस भी निकाला गया। भक्तामर मण्डल विधान Bhaktamar Mandal Legislation का आयोजन किया गया। इसके बाद एक-दूसरे के घर जाकर साल भर में हुई गलतियों की क्षमा मांगी Apologize for mistakes गई।

मुख्यालय पर दिगम्बर जैन मंदिर चंद्रप्रभु चौधरियान से सुबह श्रीजी की शोभायात्रा निकाली Procession out जाएगी। जो कस्बे के मुख्य बाजारों से होती हुई नसियाजी पहुंचेगी।

read more : जिनालय में किया जवानों की जिदंगी व शहादत पर आधारित नाटक का मंचन

जहां दोपहर में णमोकार महामंत्र Namokar Mahamantra लेखन प्रतियोगिता, जैन हाऊजी, शाम को कलशाभिषेक व साधर्मी वात्सल्य व 108 दीपकों से महाआरती Mahaarti with lamps के बाद रात को चौधरियान मंदिर में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

read more : चार दर्जन बच्चों ने गुजारी स्कूल में रात, खाळ में पानी कम होने पर सुबह सभी को भेजा अपने घर
उपखण्ड के लावा गांव में सोमवार को दिगम्बर जैन मंदिर से भगवान के वन विहार कार्यक्रम के अन्तर्गत सुबह साढे 7 बजे भगवान की शोभायात्रा निकाली जाएगी।

श्री पाŸवनाथ नवयुवक मण्डल के अध्यक्ष पारस जैन ने बताया कि दोपहर में मंदिर परिसर में शांतिनाथ मण्डल विधानमण्डल का आयोजन किया जाएगा तथा शाम को कलशाभिषेक व साधर्मी वात्सल्य का आयोजन किया जाएगा।


टोडारायसिंह. जैन समाज की ओर से रविवार को पयूर्षण पर्व के समापन पर क्षमावाणी पर्व मनाया। पड़वा ढोक कार्यक्रम के तहत सुबह सहर्षफणी पाŸवनाथ मंदिर, आदिनाथ जैन मंदिर, मण्डी का मंदिर, शांतिनाथ जिनालय, पदमप्रभू जिनालय समेत अन्य जिनालयो में शांतिधारा, पंचामृत अभिषेक कर पूजा अर्चना की।

इसके बाद सायं जैन समाज के युवा-पुरुष व बुजुर्ग-बच्चों ने एक दूसरे वर्ष भर में जाने -अनजाने में हुई गलतियों के लिए क्षमा मांगी। इसी प्रकार दतोब, पंवालिया, उनियाराखुर्द में क्षमावाणी पर्व मनाया गया।


निवाई. सकल दिगम्बर जैन समाज की ओर से आचार्य विभव सागर के सान्निध्य में भगवान पाŸवनाथ एवं शान्तिनाथ के अभिषेक के साथ रविवार को उत्तम क्षमावाणी पर्व मनाया गया।

प्रवक्ता विमल कुमार ने बताया कि रविवार को बडा़ जैन मंदिर में क्षमावाणी पर मंदिर अध्यक्ष महावीरप्रसाद गोधा एवं ज्ञानचन्द सोगानी ने श्रीजी के समक्ष दीप प्रज्वलित कर पूजा अर्चना की। श्रद्धालुओं ने क्षमायाचना करते हुए णमोकार महामंत्र के जाप किए। बड़ा जैन मंदिर से लोग बिचला जैन मंदिर पंहुचे।

जहां भगवान शांतिनाथ का अभिषेक किया। अभिषेक के बाद सामूहिक क्षमावाणी पर्व मनाया गया। इस अवसर पर पूर्व मुख्य सचेतक महावीर प्रसाद जैन, सूरजमल, सुरेश भाणजा, ताराचंद बोहरा, सुनील भाणजा, मनोज पाटनी,अशोक, प्रेमचंद, एडवोकेट अशोक जैन, जयकुमार जैन, सोभागमल सोगानी, महेन्द्र चंवरिया, गिर्राज जैन, संजय सोगानी,नरेश जैन मौजूद थे।