स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पिच्छी परिवर्तन समारोह में उमड़े श्रद्धालु, भामाशाहों व दानदाताओं का किया सम्मान

Vijay Kumar Jain

Publish: Nov 16, 2019 17:58 PM | Updated: Nov 16, 2019 17:58 PM

Tonk

आचार्य इन्द्रनन्दी का ससंघ पिच्छी परिवर्तन समारोह व चातुर्मास में विशेष कार्य करने वाले समाजसेवकों, दानदाताओं व भामाशाहों का सम्मान समारोह का आयोजन हुआ।

डिग्गी. अग्रवाल सेवा सदन में आचार्य इन्द्रनन्दी का ससंघ पिच्छी परिवर्तन समारोह व चातुर्मास में विशेष कार्य करने वाले समाजसेवकों, दानदाताओं व भामाशाहों का सम्मान समारोह का आयोजन हुआ। समारोह में धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए आचार्य इन्द्रनन्दी ने कहा कि चातुर्मास काल में संत एक ही स्थान पर चार माह निवास करते हुए साधना करते है, जिससे समाज का विकास हो सके तथा जीवन के कल्याण का मार्ग प्रशस्त हो सके।

संत चातुर्मास समापन के बाद अपनी पिच्छी को बदलते है। समारोह की शुरुआत प्रतिष्ठाचार्य टीकमचन्द जैन दिल्ली, प्रतिष्ठाचार्य मनोज कुमार जैन टोंक की देखरेख में मंगलाचरण, चित्र अनावरण, दीप प्रज्वलन, गुरु वंदना, विनयांजलि पूजन के साथ हुआ।

इसके बाद ससंघ पिच्छी परिवर्तन समारोह हुआ, जिसमें आचार्य इन्द्रनन्दी को पिच्छी भेंट करने का सौभाग्य गिर्राज कुमार, सुधीर कुमार अग्रवाल जयपुर को, मुनि क्षमानंदी को चिरंजीलाल, देवेन्द्र कुमार, संजय कुमार लावा को, मुनि निपूणनंदी को अग्रवाल समाज चौरासी अध्यक्ष हुकमचन्द जैन निवाई को, आर्यिका कनकश्री माताजी को सोहन देवी को, आर्यिका मुक्तिश्री को सुगनचन्द, रमेश जैन डिग्गी को, जयश्री माताजी को कजोड़मल, पदमचन्द जैन पीपलू को, शुद्धश्री माताजी को सूराशाही परिवार मालपुरा को, क्षुल्लक विनम्रनंदी को सन्तोष देवी, महेन्द्र जैन पराणा वाले जयपुर को, क्षुल्लिका संयमश्री को महावीर प्रसाद नेमीचन्द जैन डिग्गी को पिच्छी भेंट करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

आचार्य इन्द्रनन्दी सहित सभी संतों व आर्यिकाओं के पाद-प्रक्षालन का सौभाग्य अतिशय क्षेत्र कमेटी सांखना को व शास्त्र भेंट करने का सौभाग्य चातुर्मास समिति अध्यक्ष महावीर सूराशाही परिवार को मिला। महिला मण्डलों की ओर से विभिन्न धार्मिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी गई।

समारोह में अग्रवाल समाज चौरासी के महामंत्री त्रिलोक चन्द जैन, मंत्री अनिल सूराशाही, कोषाध्यक्ष गोविन्द नारायण जैन, युवा परिषद् अध्यक्ष विनोद नेवटा, अतिशय क्षेत्र कमेटी सांखना के अध्यक्ष प्रकाश सोनी टोंक, चातुर्मास समिति के मंत्री आशुतोष सिंहल केकड़ी, ओमप्रकाश जैन सहित पीपलू, टोंक, जयपुर, निवाई, शिवाड़, मेंहदवास, फागी, मालपुरा, केकड़ी, लावा, पचेवर, टोरड़ी सहित कई स्थानों के जैन श्रद्धालुओं ने भाग लिया। समारोह में आचार्य इन्द्रनन्दी के चातुर्मास के दौरान सेवा करने वाले समाजसेवियों, दानदाताओं व भामाशाहों का चातुर्मास समिति व प्रबंध कमेटी अग्रवाल समाज चौरासी की ओर से स्वागत किया गया।

[MORE_ADVERTISE1]