स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बारिश से फसलों में हुए खराबें का मुआवजा दिलाने की मांग, किसानों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

Pawan Kumar Sharma

Publish: Sep 16, 2019 18:14 PM | Updated: Sep 16, 2019 18:14 PM

Tonk

अतिवृष्टि से नष्ट हुई किसानों की फसलों के एवज में मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार त्यागी को ज्ञापन सौंपा।

देवली। अतिवृष्टि से नष्ट हुई किसानों की फसलों के एवज में मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर सोमवार को निवारियां क्षेत्र के ग्रामीणों ने उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार त्यागी को ज्ञापन सौंपा।इसमें बताया कि निवारिया पंचायत व समीपस्थ के संग्रामपुरा, बालापुरा, कंवरपुरा, श्रीनगर, रेलड़ा ढाणी, माताजी का ढाणी, बैरवा ढाणी, महाराजपुरा सहित क्षेत्रों में इस वर्ष अतिवृष्टि हुई है।

read more:दूणजा माता के चरणों में पहुंचा सरोवर का पानी, खुशहाली के संदेश से ग्रामीणों में खुशी की लहर

लगातार हुई बारिश से किसानों की बोई गई फसले पूरी नष्ट हो गई। जिनसे अब उपज होने की अब कोई गुंजाईश नहीं है। ऐसे में किसानों के खाद, बीज सहित कृषि कार्यो का खर्च पानी में बह गया। इससे किसान कर्ज में डूब जाएंगे। ज्ञापन में फसल खराबे का सर्वे कराकर आपदा कोष से मुआवजा दिलाने की मांग की गई।

read more:तड़पती रही प्रसूता, स्वास्थ्य केन्द्र पर लगा मिला ताला, सरपंच की सूझबूझ से प्रसूता की बची जान

ज्ञापन देने में भागीरथ बैरागी, रामप्रसाद, नंदलाल, घीसालाल, हेमराज, शंकरलाल, रामधन चौधरी सहित दर्जनों ग्रामीण शामिल थे। मकानों का भी मुआवजा मिले- इसी प्रकार अतिवृष्टि से डाबरकलां में धाराशाही हुए किसानों के मकानों का सर्वे कराकर मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

read more:बजरी से भरे ट्रक की टक्कर से गाय मरने की अफवाह पर लगाया जाम

इसमें बताया कि गत दिनों हुई अतिवृष्टि से ग्रामीण लादूराम कहार, नंदाराम गुर्जर, दुर्गालाल बैरवा, जयराम गुर्जर, जगदीश कहार, राजेन्द्र कहार, सीताराम कहार, रामस्वरुप कहार, संतोष वर्मा, घीसालाल गुर्जर, श्रवण गुर्जर, कानाराम मीणा सहित दर्जन भर किसानों के मकान ध्वस्त हो गए। ज्ञापन में नुकसान का सर्वे कराकर मुआवजा दिलाने की मांग की गई। ज्ञापन देने में वार्ड पंच आत्माराम जांगिड़, मुरलीधर, दुर्गालाल सहित ग्रामीण शामिल थे।

read more:सुंदरदास बाबा आश्रम से हिंगोनिया बालाजी धाम के लिए पदयात्रा