स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

क्रय विक्रय सहकारी समिति का सर्वसम्मति से 52 लाख रुपए का बजट पारित

Pawan Kumar Sharma

Publish: Dec 08, 2019 15:32 PM | Updated: Dec 08, 2019 15:32 PM

Tonk

क्रय विक्रय सहकारी समिति कार्यालय में आयोजित साधारण सभा में विभिन्न मदों में समिति का करीब 52 लाख रुपए का वार्षिक बजट सर्वसम्मति से पारित किया गया।

टोडारायसिंह. क्रय विक्रय सहकारी समिति कार्यालय में आयोजित साधारण सभा में विभिन्न मदों में समिति का करीब 52 लाख रुपए का वार्षिक बजट सर्वसम्मति से पारित किया गया। उपरजिस्ट्रार सहसमिति टोंक कैलाश चंद की अध्यक्षता में साधारण सभा हुई। इसमें गत साधारण सभा की कार्यवाही की पुष्टि के बाद ऑडिट आक्षेप की पूर्ति पर विचार करते हुए वित्तिय वर्ष 2017-18 एवं वित्तीय वर्ष 2018 -19 के व्यापार व लाभ हानि पर चर्चा की गई।

रजिस्ट्रार के निर्देशानुसार 2019-20 के लिए अधिनियम की धारा 54 में संशोधन के उपरांत समिति के लेखा परीक्षक लेखा परीक्षक फर्म की नियुक्ति पर विचार, समिति की ओर से आगामी वर्ष के लिए प्रस्तावित बजट पर उपस्थित सदस्यों के समक्ष विचार विमर्श किया गया।

लेखापाल पदमचंद जैन ने बताया कि विभिन्न मदों पर चर्चा करते हुए समिति का आगामी वित्त वर्ष के लिए करीब 52 लाख रुपए का वार्षिक बजट पेश किया, जिसमें विभिन्न मदों में आय व्यय प्रस्तुत किया गया। इसे समिति सदस्यों ने सर्वसम्मति से पारित किया गया। बैठक में मुख्य प्रबंधक अमित पाटोलिया, समिति के जगराज सिंह, रामनिवास सैनी समेत समिति के अन्य सदस्य मौजूद थे।

जनप्रतिनिधी एवं कर्मचारी विकास के पहिए
निवाई. पंचायत समिति में ंचायत समिति प्रधान चन्द्रकला गुर्जर की अध्यक्षता में साधारण सभा हुई। इसमें सभी सरपंचों एवं पंचायत समिति सदस्यों ने गांवों में दिन में बिजली की मांग सहित कई समस्याओं पर चर्चा की। सभी जनप्रतिनिधियों को सम्मानित किया गया।


प्रधान चन्द्रकला गुर्जर ने कहा कि सरकार की योजना का लाभ प्रत्येक व्यक्ति को मिले। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि एवं कर्मचारी विकास के दो पहिए है। इसके लिए जनप्रतिनिधि एवं अधिकरियों की सहभागिता आवश्यक है। जनप्रतिनिधियों की समस्याओं का शीघ्र समाधान हो। उनकी अपेक्षा के अनुरूप कार्य हो।

कार्यवाहक विकास अधिकरी राजेन्द्र जांगिड़ ने बताया कि जनसमस्याओं के समाधान के लिए किसी प्रकार की लापरवाही नहीं हो। इस दौरान 22 गांव में 195.6 3 किलोमीटर की सडक़ों के निर्माण के लिए प्रस्ताव पारित किया गया। सभा में उप प्रधान शंकरलाल, पंचायत समिति सदस्य बह्मप्रकाश गुर्जर, डॉ. तेजभंवरसिंह, भाजपा देहात अध्यक्ष रामदेव गुर्जर, लादूलाल बैरवा, रामस्वरूप गुर्जर आदि मौजूद थे।

[MORE_ADVERTISE1]