स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बीसलपुर से बह गया 4 साल का पानी, अब तक दो बार बीसलपुर बांध भरने जितना पानी बनास में छोड़ा

Pawan Kumar Sharma

Publish: Sep 20, 2019 11:10 AM | Updated: Sep 20, 2019 11:10 AM

Tonk

Bisalpur Dam: बीसलपुर बांध के ओवर फ्लो होने से अब दो बार बीसलपुर बांध भरने जितना पानी बनास में बह चुका है।

राजमहल. बीसलपुर बांध के जलभराव क्षेत्र में पानी की आवक को लेकर बांध परियोजना की ओर से बनास नदी में पिछले एक माह से लगातार पानी की निकासी जारी है। बीसलपुर बांध के ओवर फ्लो होने से अब दो बार बीसलपुर बांध भरने जितना पानी बनास में बह चुका है।

बांध परियोजना के अधीक्षण अभियंता वीएस सागर ने बताया कि बीसलपुर बांध से पिछले एक माह में गुरुवार शाम तक लगभग 75.5 टीएमसी से अधिक पानी की निकासी बनास नदी में की जा चुकी।

read more: नदी की पुलिया पार करते बहे युवक का रेस्क्यू, लोगों की लगी भारी भीड़

वही बीसलपुर बांध से बुधवार शाम को बांध के दो गेट एक एक मीटर तक खोलकर बनास नदी में प्रति सेकंड 12 हजार 20 क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही थी, जिसे बुधवार रात करीब 9 बजे उन्हीं दोनों गेटों को बढ़ाकर दो-दो मीटर तक करते हुए बनास नदी में प्रति सेकंड 24 हजार 40 क्यूसेक कर दी गई।

बीसलपुर बांध के कंट्रोल रूम के अनुसार पिछले 2 दिनों से बांध के जलभराव में अधिकांश पानी की आवक खारी व डाई नदियों से हो रही है। अब त्रिवेणी से काफी कम मात्रा में पानी आ रहा है। बांध का गेज 315.50 आर एल मीटर पर स्थिर है, जिसमें कुल 38 .70 टीएमसी पानी का भराव है। बांध क्षेत्र में पिछले 3 दिनों से बारिश शून्य दर्ज की गई है वहीं सीजन की अब तक कुल 8 58 एमएम बारिश दर्ज की जा चुकी है।

read more:बड़ी खबर: डेढ़ दर्जन निगम-बोर्ड-आयोगों में राजनीतिक नियुक्तियों की घोषणा किसी भी पल


कब-कब हुई निकासी
बीसलपुर बांध परियोजना के सहायक अभियंता मनीष बंसल ने बताया कि बीसलपुर बांध बनकर तैयार होने के बाद पहली बार 2004 में छलका था। तब बीसलपुर बांध से बनास नदी में कुल 26 टीएमसी पानी की निकासी की गई थी। उसके बाद 2006 में बांध पूर्ण जलभराव होने के बाद बांध से बनास नदी में कुल 43 टीएमसी पानी की निकासी की गई थी।

read more:कोटा बाढ़:पीछे छोड़ गई तबाही के निशाँ...धीमी पड़ी मदद की रफ्तार, सेवाभाव सिर्फ आश्रय स्थलों तक सिमटा

इसी प्रकार 2014 में 11 टीएमसी पानी बनास नदी में छोड़ा गया था। 2016 के दौरान बांध बनने के बाद अब तक की सबसे अधिक पानी की निकासी की गई है 2016 में कुल 135 टीएमसी पानी बनास नदी में छोड़ा गया है। वहीं इस बार गुरुवार शाम तक लगभग 75.5 टीएमसी पानी से अधिक बनास नदी में छोड़ा जा चुका है वहीं पानी की निकासी लगातार जारी है।