स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

स्टॉक में मिला जुलाई का खाद्यान्न, रिकार्ड पेश नहीं कर सके प्रबंधक

Nitin Sadaphal

Publish: Jul 21, 2019 10:00 AM | Updated: Jul 21, 2019 00:44 AM

Tikamgarh

जांच करने डुम्बार पहुंची खाद्य विभाग की टीम

बल्देवगढ़. डुम्बार के ग्रामीणों को 3 माह का राशन एवं 6 माह का केरोसिन वितरण न होने की शिकायत पर खाद्य विभाग की टीम गांव में पहुंची। यहां पर खाद्य निरीक्षक ने दुकान की जांच की, जिसमें केवल जुलाई का खाद्यान्न मिला। वहीं समिति प्रबंधक एवं सेल्समैन दुकान का रिकार्ड उपलब्ध नही करा सकें। खाद्य निरीक्षक जहां रिकार्ड चैक करने के बाद आगे की कारवाई की बात कह रही हैं, वहीं ग्रामीणों ने शंका जाहिर की हैं कि प्रबंधक एवं सेल्समैन रिकार्ड में हेरफेर कर सकते हैं।
समीपस्थ ग्राम लड़वारी की प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति द्वारा ग्राम डुम्बार के लोगों को भी राशन वितरण किया जाता था। शासन द्वारा इन गरीबों के हक का राशन पिछले तीन माह से बराबर भेजा रहा था, लेकिन समिति द्वारा इन्हें राशन वितरण नही किया गया था। 3 माह के राशन के साथ ही समिति के कर्मचारियों द्वारा उनके हिस्से का 6 माह का कैरोसिन भी उड़ा दिया गया था। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने प्रशासन से की थी। इस मामले में पत्रिका ने 15 जुलाई के अंक में खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।
शुरू हुई जांच: खबर प्रकाशन के बाद कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने इस मामले में जांच के आदेश दिए थे। कलेक्टर के आदेश के बाद खाद्य निरीक्षक सपना सेन जांच करने के लिए ग्राम डुम्बार पहुंची थी। यहां पर उन्होंने ग्रामीणों के बयान लिए। ग्रामीणों ने अपने बयान में बताया हैं कि उन्हें तीन माह का राशन एवं 6 माह का कैरोसीन नही बांटा गया हैं। सपना सेन का कहना हैं कि उन्होंने समिति की भी जांच की हैं। यहां पर केवल जुलाई माह का राशन पाया गया हैं। विदित हो कि 20 जुलाई तक भी ग्रामीणों को खाद्यान्न का वितरण नही किया गया हैं।

नही मिला रिकार्ड
जांच करने पहुंची सपना सेन को समिति के प्रबंधक एवं सेल्समैन रिकार्ड नही दिखा सकें। रिकार्ड न मिलने से यह पूरा मामला संदिग्ध होता जा रहा हैं। रिकार्ड पेश न करना भी साफ करता हैं कि यहां पर बड़े पैमाने पर गरीबों के निवाले में हेरफेर की गई हैं। विदित हो कि इन दिनों उचित मूल्य की दुकानों पर यही काम चल रहा हैं। वहीं रिकार्ड न मिलने पर ग्रामीणों ने चिंता जाहिर की हैं। ग्रामीणों का कहना हैं कि शिकायत किए एक सप्ताह हो चुका हैं। इसके बाद आज भी समिति ने रिकार्ड पेश नही किया हैं। समिति के प्रबंधक और सेल्समैन इसमें छेड़छाड़ कर सकते हैं। उन्होंने प्रशासन से इस मामले में सख्त कारवाई करने की बात कहीं हैं।

जांच में ग्रामीणों के बयान दर्ज किए गए हैं। जिसमें मई, जून एवं जुलाई का राशन एवं 6 माह का कैरोसिन न मिलने की बात सामने आई। रिकॉर्ड मौके पर नही मिला हैं। दुकान की जांच कर ली हैं। जिसमें जुलाई माह का राशन स्टॉक में हैं। समिति का रिकार्ड मिलने के बाद उससे मिलान किया जाएगा। रिकार्ड के मिलान के बाद आगे की कारवाई की जाएगी।
सपना सेन, खाद्य निरीक्षक, बल्देवगढ़