स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राशन की कालाबाजारी पर लगेगी लगाम, हर पंचायत में होगी दुकान

Anil Kumar Rawat

Publish: Jul 20, 2019 10:21 AM | Updated: Jul 20, 2019 10:21 AM

Tikamgarh

बार-बार आ रही शिकायतों के बाद कलेक्टर ने दिए निर्देश

टीकमगढ़. अब उचित मूल्य की दुकान से राशन लेने के लिए ग्रामीणों को किसी दूसरी पंचायत में नही जाना होगा। जल्द ही हर पंचायत में राशन की दुकान खोली जाएगी। राशन वितरण को लेकर आ रही शिकायतों के बाद कलेक्टर ने खाद्य विभाग को यह निर्देश दिए हैं। कलेक्टर के निर्देश के बाद जिले में 54 नई राशन की दुकानें खोली जाएंगी।


कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने जिले की हर पंचायत में राशन की दुकानें खोलने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने खाद्य विभाग को जल्द ही हर पंचायत स्तर पर एक राशन की दुकान स्थापित कराने को कहा हैं। कलेक्टर ने एक-एक समूहों द्वारा चलाई जा रही अधिक दुकानों को उनसे दूर कर दूसरे समूहों को देने की बात कहीं हैं। इसके बाद खाद्य विभाग ने इस पर काम शुरू कर दिया हैं। कलेक्टर का कहना हैं कि राशन के लिए गरीब तबके के लोगों को परेशान नही होना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने राशन की दुकानें पूरे समय खोले जाने की भी बात कहीं हैं।


आ रही थी शिकायतें: विदित हो कि वर्तमान में अनेक गांवों से हर माह राशन वितरण न होने की शिकायतें आ रही हैं। हर जनसुनवाई के साथ ही कलेक्टर द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में लगाई जा रही चौपालों में हर बार राशन को लेकर कई शिकायतें सामने आती थी। इन शिकायतों में यह समस्या भी शामिल थी कि राशन लेने के लिए कई जगहों पर तो लोगों को 5 से 10 किलोमीटर तक का सफर करना पड़ता हैं। इसे देखते हुए कलेक्टर ने हर पंचायत स्तर पर राशन की दुकान खोलने को कहा हैं।

बनाते थे बहानें: राशन वितरण को लेकर आने वाली शिकायतों के संबंध में जब संबंधित सहकारी समिति के प्रबंधक और सेल्समैन से किसी गांव में राशन वितरण न होने का कारण पूछा जाता था, तो सब का एक ही बहाना होता था कि उन्हें तीन-तीन, चार-चार दुकानों पर राशन वितरण करना पड़ता हैं। इस कारण इस गांव में अभी नही कर सकें हैं। कुछ समिति के अधिकारी एवं कर्मचारी इसी बहाने से कई बार ग्रामीण क्षेत्रों में राशन वितरण नही करते थे और राशन की कालाबाजारी की जाती थी। इन सब समस्याओं को देखते हुए कलेक्टर ने अब हर पंचायत में पृथक राशन की दुकान खोलने के निर्देश दिए हैं।


खोली जाएंगी 54 दुकानें: कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने बताया कि जिले में 54 दुकानें खोले जाने के निर्णय पेंडिंग थे। इनका निराकरण कर यह दुकानें संचालित कराई जाएंगी। ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाली समस्याओं को देखते हुए यह निर्णय लिया हैं। कलेक्टर सुमन का कहना हैं कि कई गांवों में लोगों को राशन लेने के लिए बहुत दूर जाना पड़ता था। इन सभी समस्याओं को देखते हुए यह निर्णय लिया गया हैं।
कहते हैं अधिकारी: 54 राशन दुकानों के निर्णय पेंडिंग थे। इनमें से 3 के मामले न्यायालय में चल रहे हैं। इन दुकानों को छोड़ कर शेष का जल्द ही निराकरण कर संचालित कराया जाएगा। इससे लोगों को सुविधा होगी।- सौरभ कुमार सुमन, कलेक्टर, टीकमगढ़।