स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नगरीय निकायों में नही होगी सीमावृद्धि, प्रस्ताव भेजने में की देरी

vivek gupta

Publish: Sep 11, 2019 01:00 AM | Updated: Sep 10, 2019 20:27 PM

Tikamgarh

मतदाताओं में असमानता को किया जाएगा दूर

टीकमगढ़..जिले की एकमात्र नगरपालिका और दोनो जिलो की 11 नगरपरिषदों में चुनाव के पहले वार्डो में इजाफा करने और आसपास के गॉवों को नगर में शामिल करने का मौका दिया गया था। लेकिन निर्धारित समय में नगरीय निकायो द्वारा ग्रामीण क्षेत्रो को शामिल करने का प्रस्ताव तैयार न करने के कारण अब नगरो के आसपास के गॉव नही जोडे जा सकेगें। जिससे एक बार फिर परिसीमन की पहल हवा हो गई है।

टीकमगढ़ नगरपालिका में शामिल 27 वार्डो के मतदाताओं की संख्या में असमानता को ही दूर किए जाने को लेकर कार्रवाई शुरू की जा रही है। निवाडी जिले के गठन के बाद निवाडी नगर मुख्यालय और पृथ्वीपुर नगरो के वार्डो का भी दायरा बढाए जाने के की संभावना खत्म हो गई है। इसके साथ ही बल्देवगढ़ और पलेरा में भी मतदाताओं की मौजूदगी के कारण वार्डो के परिसीमन की आवश्यकता थी,लेकिन अब २०१४ के आधार पर ही वार्डो के चुनाव कराए जाएगें।

नही होगी सीमावृद्वि,नगरपालिका ने समय से नही की पहल
नगरीय निकायों के आगामी नवम्बर और दिसम्बर में संभावित आम चुनावों को देखते हुए निकायों में सीमा एवं वार्ड वृद्धि की कार्रवाई करने के लिए सरकार ने समय दिया था। १० फरवरी से यह प्रक्रिया की जानी थी। नगरीय विकास और आवास विभाग द्वारा कलेक्टर को इस संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए गए थे।

खास बात है कि नगरीय निकाय के द्वारा सीमावृद्वि को लेकर कोई प्रयास न करने से अब समय निकल चुका है। जिसके कारण अब सीमावृद्वि नही हो पाएगी,जिससे अब आगामी नगरीय चुनाव पिछले २७ वार्डो में ही होगें।

परिसीमन की प्रक्रिया के लिए समय सीमा निर्धारित
सरकार द्वारा जारी प्रक्रिया के तहत सीमावृद्धि संबंधी प्राथमिक प्रकाशन १० फरवरी और दावे आपत्तियों के निराकरण के बाद अंतिम प्रकाशन १० मार्च तक करना थी। वार्डो की संख्या निर्धारण की अधिसूचना का प्रकाशन ३० अगस्त को वार्डो की सीमाओं के निर्धारण क्षेत्र का प्राथमिक प्रकाशन ३० सितंबर तक और दावे आपत्तियां की सुनवाई और निराकरण किया जाएगा।

17 अक्टूबर तक वार्डों की संख्या और सीमाओं का निर्धारण करके अधिसूचना का प्रकाशन कलेक्टर को करना है। 31 अक्टूबर तक वार्डों की संख्या पर दावा और आपत्ति लेकर कलेक्टर शासन को रिपोर्ट भेजेंगे।15 नवंबर तक वार्डों की सीमाओं का अंतिम प्रकाशन किया जाएगा। 30 दिसंबर तक वार्डों का आरक्षण होगा।

कई वार्डो में है असमानता
नगरपालिका में वैसे तो 27 वार्ड है लेकिन कई वार्ड या तो बहुत बड़े है या फिर बहुत छोटे। नगर का सबसे छोटा वार्ड २३ को माना जाता है,जंहा करीब ९०० मतदाता है। वही नगर के वार्ड २४ का विस्तार गंजीखाना से बैकुण्ठी तक है।

इसी तरह वार्ड १८ में कुंवरपुरा,सुभाषपुरम कॉलोनी के साथ ही अस्पताल चौक के पास की कई कॉलोनियां शामिल है। नगर के बडे वार्डो में शुमार वार्ड २७ में मऊचुंगी से लेकर डुमरउ भाटा तक आता है। इन वार्डो में मतदाताओं की संख्या २५०० से कही अधिक होकर 3 से 4 हजार तक जा पहुंची है।

जबकि नगरीय निकायों में वार्ड में अधिकतम २५०० मतदाता ही होने चाहिए। इस नियम के कारण नगर के बडे वार्डो के परिसीमन की आवश्यकता होने लगी है।

कहते है अधिकारी-
नगरपालिका के द्वारा प्रस्ताव तैयार किया गया है। लेकिन शासन से पत्र देर से मिलने के कारण परिषद द्वारा प्रस्ताव नही भेजा जा सका।
लक्ष्मी राकेश गिरि गोस्वामी अध्यक्ष नगरपालिका टीकमगढ़
निवाड़ी और पृथ्वीपुर सहित किसी भी नगर में सीमावृद्वि का प्रस्ताव नही भेजा गया है। पुराने वार्डो के आधार पर ही चुनाव कराए जाएगें।
अक्षय कुमार सिंह कलेक्टर निवाडी
जिले में किसी भी नगरीय निकाय की सीमावृद्वि का प्रस्ताव नही गया है। वार्डो में मतदाताओ की असमानता दूर की जाएगी।
सौरभ कुमार सुमन कलेक्टर टीकमगढ़
नगर की सीमावृद्वि का प्रस्ताव पहले नही भेजे जाने से अब केवल २७ वार्ड ही रहेगें। इन वार्डो में मतदाताओं की समानता के लिए कार्रवाई की जा रही है।
माधुरी शर्मा सीएमओ नगरपालिका टीकमगढ़