स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

न स्टाप न पलंग स्वास्थ्य सुविधाएं ध्वस्त, मांगों के बाद भी नहीं दी जा रही सुविधाएं

Akhilesh Lodhi

Publish: Aug 19, 2019 08:00 AM | Updated: Aug 18, 2019 20:56 PM

Tikamgarh

खरगापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को २२ सेक्टरों के साथ १ लाख ५० हजार लोगों की जिम्मेदारी है।

टीकमगढ़/खरगापुर.खरगापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को २२ सेक्टरों के साथ १ लाख ५० हजार लोगों की जिम्मेदारी है। इसके बावजूद भी वह स्वयं बीमार पड़ा हुआ है। यहां पर न तो मरीजों के उपचार के लिए स्टाप है औ न ही स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं। जिसके कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
वर्ष २००८ में खरगापुर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का उन्नयन कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का दर्जा दिया गया था। जहां ३० पलंग के साथ २४ लोगों का स्टाप दिए जाने के आदेश दिए गए थे। लेकिन यह स्वास्थ्य केंद्र सालों से ६ लोगों के स्टाप के साथ ६ पलंगों में संचालित हो रहा है। जो अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। मामले को लेकर नगर सहित २२ सेक्टर के लोगों ने प्रशानिक अधिकारियों से लेकर मंत्री और मुख्यमंत्री से शिकायतें की गई। लेकिन मामले को लेकर कोई कार्रवाई नहीं की गई है।
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की नहीं है कोई सुविधाएं
नगर के ऋतु राय, शेख कुतवुद्दीन, पुष्पेंद्र सिंह लोधी, मनोज अहिरवार ने बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उन्नयन किया गया था। वहां न तो मरीजों के लिए पानी और न ही पलंग की व्यवस्थाएं की गई। यह स्वास्थ्य केंद्र प्राथमिक स्वास्थ्य केेंद्र की स्थिति में ही संचालित किया जा रहा है।


यह होना चाहिए व्यवस्थाएं
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ३० पलंग, पानी की सुविधाएं, शव वाहन, सर्जिकल विशेषज्ञ, शिशु विशेषज्ञ, स्त्री विशेषज्ञ, निश्चेतना विशेषज्ञ के साथ ६ स्टाप नर्स के साथ एएनएम स्वीकृति किए गए थे। लेकिन वहां की स्थिति उलट है। जहां डॉक्टर अस्थाई रूप से पदस्थ है। इसके साथ ही एक स्टाप नर्स, दो एएनएम और ६ पलंग दिए गए है। जिसके कारण मरीजों को उपचार के लिए परेशान होना पड़ रहा है।
इनका कहना
डॉक्टरों की कमी सभी अस्पतालों में बनी हुई है। अस्पतालों में असुविधाओं को जल्द ही पूरा किया जाएगा। डॉक्टरों को लाने के लिए प्रशासन को पत्र दिया जाएगा। जिससे क्षेत्र के लोगों को परेशान नहीं होना पड़ेगा।
डॉ. एसके छिलवारकर बीएमओ बल्देवगढ़।
अस्पतालों में डॉक्टरों कमी का मामला विधानसभा में उठाया जाएगा। खरगापुर विधानसभा के लोगों को स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं समय पर उपलब्ध हो उसके लिए डॉक्टरों को लाने का प्रयास किया जाएगा।
राहुल सिंह लोधी विधायक खरगापुर विधानसभा।