स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फरार तत्कालीन बैंक मैनेजर को पुलिस ने झारखंड से किया गिरफ्तार, लोगों के खाते से लोन के लाखों रुपए किए थे गबन

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Nov 03, 2019 17:28 PM | Updated: Nov 03, 2019 17:28 PM

Surajpur

Surajpur Crime: सेंट्रल बैंक के मैनेजर ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर स्व-सहायता समूहों व खाताधारकों को लाखों रुपए की लगाई है चपत

रामानुजनगर. लोन की राशि के गबन (Embezzled) के मामले में फरार सेंट्रल बैंक के पूर्व प्रबंधक आलोक गुप्ता को पुलिस की टीम ने झारखंड से गिरफ्तार (Former bank manager arrested) कर लिया है। हितग्राहियों व खाताधारकों के मुद्रा लोन, होम लोन सहित अन्य राशि पूर्व बैंक प्रबंधक द्वारा दूसरे के खाते में ट्रांसफर की गई थी।

पीडि़तों द्वारा थाने में इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी, इसके बाद से वह फरार था। आरोपी से पुलिस पूछताछ कर रही है। (Surajpur Crime)

ये भी पढ़ें: थाने में महिला स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष को पूर्व बैंक मैनेजर ने दी गाली, हाथ पकड़कर दे दिया धक्का, फिर...


गौरतलब है कि सेंट्रल बैंक की रामानुजनगर शाखा में हितग्राहियों व खाताधारकों के मुद्रा लोन, होम लोन की राशि दूसरे के खाते में हस्तांतरित कर गबन (Embezzled) करने का मामला सामने आया था।

इस मामले में जांच के बाद पुलिस ने तत्कालीन बैंक प्रबंधक आलोक गुप्ता, कैशियर देवेश कुमार, लाल खेस, सचिन, गोविंद राव गायकवाड़, सुरेंद्र सुराई मरांडी, अभिषेक मंडल के खिलाफ धारा 420, 409, 467, 468, 471 व 120 बी के तहत अपराध दर्ज किया था। मामले में पुलिस ने अभिषेक मंडल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

ये भी पढ़ें : पति-पत्नी हो गए अलग तो मां ने 13 साल की बेटी का शादीशुदा युवक से करा दिया निकाह, फिर इतने हुए जुल्म कि...

शेष आरोपी फरार हो गए थे, उनकी तलाश जारी थी। इसी बीच पुलिस टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि बिहार के पटना जिला अंतर्गत जक्कनपुर निवासी आलोक झारखंड में है। इस पर पुलिस टीम ने झारखंड जाकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।


कार्रवाई में ये रहे शामिल
कार्रवाई में एसडीओपी प्रकाश सोनी के निर्देशन में निरीक्षक गोपाल धुर्वे, एसआई बीडी यादव, आरक्षक वेदप्रकाश राजवाड़े, संतोष ठाकुर, गणेश सिंह व संजय सिंह शामिल रहे।

सूरजपुर जिले की क्राइम की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Surajpur Crime

[MORE_ADVERTISE1]