स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बाइक सवार दो दोस्तों को टक्कर मार पलट गई तेज रफ्तार पिकअप, सिर फटने से एक घर का बुझ गया चिराग

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Aug 19, 2019 19:12 PM | Updated: Aug 19, 2019 19:12 PM

Surajpur

Surajpur accident: 3 युवक गंभीर रूप से घायल, रफ्तार इतनी तेज थी कि टक्कर मारने के बाद पिकअप भी पलट गई

दतिमा मोड़. बाइक पर सवार होकर सोमवार की दोपहर 2 दोस्त घूमने जा रहे थे। इसी दौरान तेज रफ्तार पिकअप ने उन्हें टक्कर (Surajpur accident) मार दी। हादसे में एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हादसे के बाद मौके पर मृतक के परिजन व ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। 2 घंटे तक शव सड़क पर ही पड़ा रहा। परिजन व ग्रामीण शासन से मुआवजे की मांग पर अड़े थे। मौके पर तहसीलदार समेत पुलिस अधिकारी भी पहुंचे थे।

 

यह भी पढ़ें : स्कूल से घर लौट रहे बाइक सवार शिक्षक के ऊपर पलट गया गन्ना लोड ट्रैक्टर, दबकर हो गई दर्दनाक मौत


सूरजपुर जिले के भैयाथान थानांतर्गत ग्राम करौटी निवासी विजय प्रताप सिंह पिता सुखदेव 28 वर्ष अपने दोस्त रवि देवांगन पिता गोविंद 19 वर्ष के साथ सोमवार की दोपहर करीब 2 बजे अपनी सोल्ड बाइक से भैयाथान की ओर जा रहा था। दोनों भैयाथान-प्रतापपुर मार्ग पर ग्राम दवना मोड़ के पास पहुंचे थे।

 

Surajpur accident

इसी दौरान पीछे से तेज रफ्तार में आ रही पिकअप क्रमांक सीजी 07 बीएन-4294 ने उन्हें टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि विजय प्रताप सिर के बल सड़क पर जा गिरा और उसकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि रवि गंभीर रूप से घायल हो गया।

पिकअप की रफ्तार का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बाइक सवारों को टक्कर मारने के बाद वह भी पलट गई। हादसे के बाद चालक वहां से फरार हो गया। बताया जा रहा है कि दोनों को टक्कर मारने से पहले पिकअप चालक ने बाइक सवार 2 अन्य युवकों को भी टक्कर मारी थी। उन्हें भी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

यह भी पढ़ें : आधी रात बाइक सवार 3 दोस्तों के सामने से अचानक गायब हो गई सड़क, 2 की दर्दनाक मौत


2 घंटे तक नहीं उठाया शव
दुर्घटना के बाद स्थानीय लोगों द्वारा घायल को अस्पताल ले जाया गया। इधर सूचना मिलते ही मृतक के परिजन व काफी संख्या में ग्रामीण वहां पहुंच गए। उन्होंने शव उठाने से मना कर दिया। उनका कहना था कि जब तक शासन की ओर से उन्हें 40 हजार की तात्कालिक मुआवजा राशि नहीं दी जाएगी, वे शव नहीं उठाएंगे।

सूचना मिलते ही भैयाथान तहसीलदार इंद्रा सिंह मौके पर पहुंचीं, वहीं भैयाथान पुलिस की भी मौजूदगी रही। अंत में तहसीलदार द्वारा 20 हजार की तात्कालिक सहायता राशि प्रदान की गई। फिर पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया। पीएम पश्चात उन्होंने शव परिजन को सौंप दिया।

 

सूरजपुर जिले की क्राइम से संबंधित खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Crime in Surajpur