स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शराब के नशे में स्कूल पहुंचे प्रधान पाठक, कुर्सी पर बैठे तो खुद ही पढऩे लगे बच्चे, अभिभावकों के साथ सांसद प्रतिनिधि आए तो...

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Sep 26, 2019 20:22 PM | Updated: Sep 26, 2019 20:22 PM

Surajpur

Drunken teacher: कई दिन से प्रधान पाठक के शराब के नशे में स्कूल आने की मिल रही थी शिकायत, जिला शिक्षा अधिकारी ने कही ये बात

जरही. बच्चों का भविष्य शिक्षकों के हाथ में होता है, स्कूल में वह ही उन्हें पढ़ा-लिखाकर उनका भविष्य संवारता है। लेकिन कई मामलों में देखा गया है कि शिक्षक लापरवाही करते हैं। वे या तो स्कूल लेट से पहुंचते हैं या आते ही नहीं। कई शिक्षक शराब के नशे में धुत होकर बच्चों को शिक्षा देते हैं, इसका असर भी बच्चों पर पढ़ता है।

ऐसा ही एक मामला सूरजपुर जिले के भैयाथान विकासखंड अंतर्गत एक प्राइमरी स्कूल से सामने आया है। यहां के प्रधानपाठक नशे में धुत (Drunken teacher) होकर स्कूल पहुंचे थे। इनके सामने बच्चे खुद पढ़ रहे थे। जब अभिभावक पहुंचे तो पूछताछ में इनकी बोलती बंद हो गई। मामले की शिकायत डीईओ से की गई है।


भैयाथान विकासखंड के प्राथमिक शाला बुंदिया भंडार पारा में पदस्थ प्रधानपाठक सखन राम पैंकरा के प्रतिदिन शराब के नशे में विद्यालय आने की शिकायत मिल रही थी। इससे विद्यार्थियों की पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित हो रही है।

गुरुवार को विद्यालय में अचानक ग्राम पंचायत के सांसद प्रतिनिधि रमेश गुप्ता, हुलास राजवाड़े, विनोद राजवाड़े, कृष्णा मानिकपुरी, पीतांबर व बृजलाल पहुंचे तो प्रधानपाठक को नशे की हालत (Drunken teacher) में देखकर चौंक गए। 10 बच्चे प्रधानपाठक के सामने बैठकर खुद ही पढ़ते नजर आए।

नशे में धुत प्रधानपाठक कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं थे। लोगों ने बताया कि कई बार इसकी शिकायत नहीं बीईओ से कर चुके हैं, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है, विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है।


जांच के बाद की जाएगी कार्रवाई
इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी उपेंद्र सिंह ने कहा कि पत्रिका के माध्यम से मुझे इसकी जानकारी मिली है। मामले की जांच कराकर प्रधानपाठक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सूरजपुर जिले की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Surajpur News