स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शिक्षामंत्री के खिलाफ विधायक ने कही थीं ये बातें, गुस्साए कांग्रेसियों ने मोर्चा खोल संगठन से की कार्रवाई की मांग

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Sep 14, 2019 21:03 PM | Updated: Sep 14, 2019 21:03 PM

Surajpur

Chhattisgarh politics: पत्रवार्ता कर की स्कूल शिक्षा मंत्री के खिलाफ दिए गए बयान की निंदा, रामानुजगंज विधायक ने शिक्षामंत्री पर लगाए थे ये आरोप

प्रतापपुर. रामानुजगंज विधायक वृहस्पति सिंह द्वारा स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह (Education Minister) पर भाजपा के प्रभाव में आकर काम करने सहित अनर्गल बयानबाजी को लेकर प्रतापपुर विधानसभा व ब्लॉक कांग्रेस कमेटी प्रतापपुर के कार्यकर्ताओं ने कड़ी नाराजगी जताई है। उन्होंने पत्रवार्ता कर विधायक के बयान की निंदा करते हुए संगठन से कार्रवाई की मांग की है।


शिक्षामंत्री के ब्लॉक प्रतिनधि अनिल गुप्ता ने कहा कि विधायक वृहस्पति सिंह का इस तरह का बयान निंदनीय है। अगर उनकी कोई नाराजगी है तो बात पार्टी फोरम पर रखनी चाहिए न कि सार्वजनिक तौर पर बदनाम करने का प्रयास करना चाहिए।

कांग्रेस जिला कोषाध्यक्ष इम्तियाज जफर ने कहा कि विधायक वृहस्पति सिंह डॉ. प्रेमसाय सिंह जैसे सहज स्वभाव के धनी व्यक्ति के खिलाफ किस कारण से बयान दे रहे हैं यह तो वही जानेंगे, लेकिन उनका यह कृत्य पार्टी की गाइडलाइन के विपरीत और अनुशासनहीनता है।

उन्हें पार्टी फोरम पर बात रखनी थी न कि सार्वजनिक तौर पर बयानबाजी, यह उचित नहीं है। बयानबाजी से पहले स्कूल शिक्षा मंत्री के पद की गरिमा व डॉ. प्रेमसाय सिंह के सरल स्वभाव व व्यक्तित्व का ध्यान रखना चाहिए था।

संजीव श्रीवास्तव ने कहा कि पार्टी फोरम पर बात रखेंगे और अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग करेंगे। कंचन सोनी ने कहा कि आज तक डॉ. प्रेमसाय पर कोई लांछन नहीं लगा सका, उनका यह कृत्य निंदनीय है।


शिक्षामंत्री के काम से सीएम भी खुश हैं
इम्तियाज जफर ने शिक्षा मंत्री के काम से संगठन के साथ ही सीएम भी खुश हैं। पूरे प्रदेश में सिर्फ बृहस्पति सिंह ही एक हैं, जो स्वत: ही षडयंत्र रचने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि अगर अब फिर से कोई बयानबाजी हुई तो कार्रवाई को लेकर हम अलग रास्ता अपनाएंगे क्योंकि यह हमारे नेता के सम्मान का सवाल है।कांग्रेसियों ने कहा कि वे हर स्थिति में डॉ. प्रेमसाय सिंह के साथ हैं तथा उनके सम्मान के लिए हर लड़ाई लडऩे को तैयार हैं।


ये रहे शामिल
पत्रवार्ता में अनिल गुप्ता, पप्पू जफर, नरेंद्र गर्ग, अशोक जायसवाल, बनवारी लाल गुप्ता, मुकेश गर्ग, कंचन सोनी, संजीव श्रीवास्तव, बलबीर यादव, त्रिभुवन सिंह, फकरुद्दीन अंसारी, विपिन जायसवाल, मिक्की यादव, अवधेश सिंह, मासूम इराकी, गोल्डन इराकी, विक्कू गुप्ता, बिगनेश्वर राम, भानु गुप्ता, अयोध्या प्रसाद पांडे व शिवनन्दन सिंह शामिल रहे।

छत्तीसगढ़ की राजनीतिक खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Chhattisgarh political news