स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पति जेल में था तो पत्नी को ब्रोकर ने दिए थे 50 हजार, बातें भी होने लगीं, फिर ये कहा तो दुपट्टे से घोंट दिया गला

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Aug 09, 2019 16:59 PM | Updated: Aug 09, 2019 16:59 PM

Surajpur

Chhattisgarh murder: हत्या करने के बाद अपने ऑफिस के दूसरे कमरे में छिपा दिया था शव और बाहर से लगा दिया था ताला, पुलिस ने आरोपी ब्रोकर को भेजा जेल

सूरजपुर. साथ में रखने व रुपए के लिए दबाव बनाने से परेशान जमीन बिचौलिए द्वारा शहीदा की गला दबाकर हत्या कर दिए जाने की बात सामने आई है। पुलिस ने गुरुवार को जारी प्रेस नोट में यह बताया कि जमीन बिचौलिए मुख्तार ने ही गला दबाकर (Chhattisgarh murder) शहीदा की हत्या की है।

मामले में मुख्तार को बुधवार ही जेल भेज दिया गया है। जेल भेजने के एक दिन बाद पुलिस ने हत्या (Chhattisgarh murder) के कारणों का खुलासा किया है।

 

Chhattisgarh murder

दरअसल 6 अगस्त को महगवां स्थित जमीन दलाल मुख्तार उर्फ लल्लु के दफ्तर में ग्राम सिरसी निवासी 28 वर्षीय शहीदा बेगम का शव (Murder in Surajpur) संदिग्ध परिस्थितियों में मिला था। घटना के संदर्भ में बताया गया था कि मृतिका घटना दिवस को अपने पति राही खान के साथ मुख्तार के पास जमीन के सिलसिले में पहुंची थी।

बातचीत के दौरान राही खान अपनी पत्नी को छोड़कर चाय पीने चला गया था और जहां से वापस लौटा तो उसकी पत्नी मृत मिली। राही खान ने मुख्तार पर हत्या का आरोप लगाया था। पुलिस ने जांच व पीएम रिपोर्ट के बाद बताया है कि पीएम रिपोर्ट में गला घोंटकर हत्या किए जाने की बात सामने आई है।

 

यह भी पढ़ें : पत्नी को जमीन दलाल के ऑफिस में छोड़कर बाहर गया था पति, लौटा तो थी गायब, जब दूसरे कमरे में देखा तो...

 

वहीं आरोपी मुख्तार ने पूछताछ में बताया है कि मृतिका (Chhattisgarh murder) के पति राही खान को 7-8 वर्षो से जानता है, करीब 6 माह पूर्व कोर्ट में राही खान अपने पत्नी के साथ जमीन के संबंध में कोर्ट में आया था, इसी दौरान इसकी मुलाकात मृतका से हुई थी।

2-3 माह पूर्व मृतिका शहीदा का पति राही खान कोरेक्स के प्रकरण में जेल गया था, उसके जमानत कराने के संबंध में शहीदा से बातचीत होती रहती थी। उसने पति की जमानत के नाम पर 50 हजार रुपए मृतिका शहीदा को दिए थे।

 

यह भी पढ़ें : प्रेमी के साथ निकली 2 बच्चों की मां नहीं लौटी घर, दूसरे दिन रेलवे ट्रैक के किनारे झाडिय़ों में मिली लाश


अपनाने के लिए बना रही थी दबाव
आरोपी के मुताबिक मृतका उसके साथ रहने के लिए दबाव बनाती थी। घटना दिनांक 6 अगस्त को भी मृतका रुपए की मांग कर रही थी और साथ रहने के लिए उसके ऊपर दबाव डाल रही थी। इसी से तंग आकर आरोपी ने मृतका के गले में पहने स्कार्फ और चुनरी से उसका गला घोंट कर हत्या कर दी थी।

 

यह भी पढ़ें : दोस्त बोला- मैं भी तुम्हारी गर्लफ्रेंड को चाहता हूं, मेरी भी उससे बात कराओ तो गुस्से में कर दी हत्या


पुलिस ने भेजा जेल
आरोपी मुख्तार अली उर्फ लल्लू पिता नसरूद्दीन उम्र 38 वर्ष निवासी महगवां के विरूद्व सबूत पाए जाने पर उसे गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड में भेजा गया।

कत्ल की गुत्थी सुलझाने में पुलिस अधीक्षक जीएस जायसवाल के मार्गदर्शन में सीएसपी डीके सिंह के नेतृत्व में थाना प्रभारी विकेश तिवारी, एसआई रश्मि सिंह, प्रधान आरक्षक राहुल गुप्ता, अदीप प्रताप सिंह, धनेश्वर कुशवाहा, रामनिवास तिवारी, अखिलेश यादव, आरक्षक लक्ष्मी नारायण मिर्रे, रामकुमार नायक व वसीम राजा सक्रिय रहे।

 

सूरजपुर जिले की क्राइम से संबंधित खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Crime in surajpur