स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जब प्रदेश के कैबिनेट मंत्री कवासी लखमा खेलने पहुंचे "फुटबॉल"

Bhupesh Tripathi

Publish: Jul 26, 2019 15:38 PM | Updated: Jul 26, 2019 15:47 PM

Sukma

Kawasi lakhma Chhattisgarh: मैदान में नज़र आए मंत्री लखमा खिलाड़ियों से कहा कड़ी मेहनत से मिलने वाले नतीजे से मिलती है सबसे ज्यादा खुशी इस संभाग स्तरीय ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता में नारायणपुर रहा विजेता।

सुकमा। प्रदेश के वाणिज्यिक कर आबकारी वाणिज्य व उद्योग मंत्री कवासी लखमा (Minister Kawasi Lakhma) हमेशा चर्चे में रहते हैं। कभी अपने बयान बाजकी के चलते तो कभी बाकि गतिविधियों में। इस बार एक अलग कारन से छाए ( Kawasi Lakhma Chhattisgarh) हुए हैं। मंत्री जी फुटबाल खलते नज़र आए हैं दरअसल छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाके बस्तर के सुकमा में युवाओं का आत्मबल और प्रोत्साहन के लिओए फुटबॉल फुटबॉल प्रतियोगिता कराया गया।

किसानों के सर मंडरा रहा कॉर्पोरेट कब्जे का खतरा, 15 वें वित्त आयोग ने राज्य सरकार को दिए ये सुझाव

सुकमा के मिनी स्टेडियम में आयोजित संभाग स्तरीय ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता के फाइनल मैच के शुभारम्भ अवसर पर खिलाडिय़ो को संबोधित करने पहुंचे मंत्री ने कहा - पूरी लग्न एवं कड़ी मेहनत के बाद जो सफलता मिलती है उससे अपार खुशी महसूस की जा सकती हैं। मंत्री लखमा ने पहले फुटबॉल को किक लगाकर मैच का शुभारम्भ किया और सभी खिलाडिय़ों, खेल प्रेमियों, नागरिकों एवं उपस्थित जनसमुदाय को शुभकामनाएं दी। संभाग स्तरीय ग्रामीण फुटबाल मैच का आयोजन जिला प्रशासन द्वारा किया गया था।

इसके आयोजन में खेल एवं युवा कल्याण की भागीदारी महत्वपूर्ण रही। लखमा ने संभाग स्तरीय मैच के आयोजन करने के लिए और सुकमा जिले के खिलाडिय़ों और युवाओं को प्रोत्साहित और खेल के अवसर प्रदान करने के लिए जिला प्रशासन की प्रशंसा की। फायनल मैच सुकमा और नारायपुर के बीच खेला गया। मैच काफी रोमांचक था। दोनो टीम के खिलाडिय़ों ने शानदान खेल का प्रदर्शन करते हुए दर्शकों को रोमांचित किया। नारायणपुर की टीम ने यह मैच दो गोल से जीता।

अधिकारी और मंत्रियों पर गिरी गाज, नजर रखने वाले ही रहते हैं बेखबर

सुकमा की टीम एक भी गोल नहीं कर पाई परन्तु टीम का खेल प्रदर्शन बेहतरीन देखने को मिला। विजेता एवं उप विजेता को जिला पंचायत के अध्यक्ष श्री हरीश कवसी ने पुरूस्कृत किया। विजेता नारायपुर की टीम को 51 हजार रुपए नगद एवं ट्राफी प्रदान की गई। इसी तरह से उप विजेता सुकमा की टीम को 21 हजार रुपए नगद पुरूस्कार के साथ उप विजेता की ट्राफी प्रदान की गई।

इस अवसर पर मैच के दौरान श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों एवं सहयोग प्रदान करने वालों को भी पुरूस्कृत किया गया। मैच समापन समारोह को संबोधित करते हुए जिला पंचायत के अध्यक्ष हरीश कवासी ने कहा कि संभाग स्तरीय ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता के आयोजन से युवा खिलाडिय़ों को अपनी योग्यता प्रदर्शन करने का अच्छा अवसर प्राप्त हुआए वही पर दूसरे जिले के खिलाडिय़ों से खेल के श्रेष्ठ गुण भी सीखने को मिलते हैं।

छत्तीसगढ़ पुलिस हैदराबाद में करेगी मार्चपास्ट और आंध्रा पुलिस शामिल होगी राजधानी के परेड में

उन्होंने इस आयोजन के लिए कलेक्टर श्री चन्दन कुमार के लिए आभार व्यक्त किया। कवासी ने कहा कि जिला प्रशससन इसी तरह से अन्य खेलों की संभाग स्तरीय खेल प्रतियोगिता आयोजित करेगाए इसके लिए हम सभी के द्वारा भरपूर सहयोग प्रदान किया जाएगा।

Kawasi lakhma Chhattisgarh से जुड़ी खबर के लिए यहाँ CLICK करें।